बुन्देलखण्ड के गांधी जमुना प्रसाद बोस की अस्थियां संगम में प्रवाहित

बुन्देलखण्ड के गांधी के नाम से मशहूर बांदा सदर सीट  से चार बार विधायक और तीन बार मंत्री रहे जमुना प्रसाद बोस की अस्थियों का आज उनके छोटे पुत्र शीलू बोस ने प्रयागराज में प्रवाहित कर दिया...

बुन्देलखण्ड के गांधी जमुना प्रसाद बोस की अस्थियां संगम में प्रवाहित

बुन्देलखण्ड के गांधी के नाम से मशहूर बांदा सदर सीट से चार बार विधायक और तीन बार मंत्री रहे जमुना प्रसाद बोस की अस्थियों का आज उनके छोटे पुत्र शीलू बोस ने प्रयागराज में प्रवाहित कर दिया। उसके पहले समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में जगह जगह अस्थि कलश में पुष्पांजलि अर्पित की।

यह भी पढ़ें : कोरोना संक्रमित कैदी का मामला पहुंचा मुख्यमंत्री तक, प्रशासन ने कराया अंतिम संस्कार

शहर के खिन्नी नाका स्थित उनके निवास से अस्थि कलश विसर्जन यात्रा जैसे ही रवाना हुई वैसे ही बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता व उनके समर्थक वहां पहुंचे और अस्थिकलश के दर्शन कर पुष्पांजलि अर्पित की। उनके असली तलाश को लेकर शीलू बोस परिवार के अन्य सदस्यों के साथ प्रयागराज के लिए रवाना हुए। चार पहिया गाड़ी को उनके समर्थकों ने होल्डिंग पोस्टर व फूल मालाओं से सजाया था।

यह भी पढ़ें : कोरोना के साये में हरिद्वार कुंभ की तैयारियां

यह भी पढ़ें : नवरात्रि महोत्सव पर भी लग सकता है कोरोना का ग्रहण

इस मौके पर समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष विजय करण यादव, नगर पालिका के अध्यक्ष मोहन साहू, वृंदावन वैश्य, प्रदीप जडिया, अशोक श्रीवास, अजीम अहमद, रणवीर सिंह नन्ना, अजय गुप्ता, संजय निगम अकेला,  मौजूद रहे। इसके बाद जब अस्थि कलश विसर्जन यात्रा अतर्रा पहुंची तो वहां भरत लाल दिवाकर, दिनेश गुप्ता, नीरज द्विवेदी, अमर सिंह राठौर सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने अस्थि कलश में पुष्पांजलि अर्पित की। इसी तरह चित्रकूट और मऊ में भी कार्यकर्ताओं द्वारा अस्थिकलश के दर्शन कर पुष्पांजलि अर्पित की गई। बाद में प्रयागराज पहुंच कर संगम में उनकी अस्थियां विसर्जित कर दी गई।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश : सोशल मीडिया पर आईं 6,32,089 शिकायतें, 4,167 एफआइआर दर्ज