भ्रष्टाचारियों का जमावड़ा है विपक्षी दलों का गठबंधन : जेपी नड्डा

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने चित्रकूट की चुनावी जनसभा में विपक्षी दलों के गठबंधन...

भ्रष्टाचारियों का जमावड़ा है विपक्षी दलों का गठबंधन : जेपी नड्डा

चित्रकूट। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने चित्रकूट की चुनावी जनसभा में विपक्षी दलों के गठबंधन आईएनडीआईए पर जमकर हमला बोला। नड्डा ने कहा कि यह गठबंधन भ्रष्टाचारियों का जमावड़ा है। मोदी जी कहते हैं- भ्रष्टाचारी हटाओ, विपक्षी गठबंधन वाले कहते हैं- भ्रष्टाचारियों को बचाओ। ये सब परिवारवादी लोग हैं।

यह भी पढ़े : आरओ प्लांट संचालक शुद्ध पानी के नाम पर लोगों की सेहत से कर रहे खिलवाड़

भाजपा अध्यक्ष नड्डा चित्रकूट से भाजपा उम्मीदवार आरके सिंह पटेल के समर्थन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। नड्डा ने कहा कि राहुल गांधी के एक सिपहसालार और सलाहकार ने चमड़ी के आधार पर भारत को बांटने की बात की है। ऐसे लोग भारत की संस्कृति के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आजकल राहुल गांधी संविधान की कॉपी लेकर घूम रहे हैं। संविधान में बाबा साहेब अंबेडकर ने लिखा है कि आरक्षण धर्म के नाम पर नहीं होगा जबकि कांग्रेस दलित, आदिवासी, पिछड़े और अतिपिछड़े भाइयों के अधिकार पर डाका डालकर धर्म के आधार पर आरक्षण देना चाहती है।

यह भी पढ़े : उप्र के 75 सरकारी अस्पतालों में मरीजों को मिलेगी ऑनलाइन जांच रिपोर्ट

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि एक समय उत्तर प्रदेश बीमारू राज्य था लेकिन आज मोदी और योगी के नेतृत्व में यह देश के अग्रणी राज्यों में आकर खड़ा हो गया है। डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर में अब चित्रकूट को भी शामिल कर लिया गया है। इसके यहां आने से चित्रकूट और बांदा की तस्वीर बदल जाएगी और यहां के नौजवानों को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे। मोदी जी ने सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, सबका प्रयास के मंत्र को आत्मसात करते हुए गांव, गरीब, शोषित, वंचित, पीड़ित, युवा, किसान और महिलाओं को मजबूती देने का काम किया। आज देश में रिपोर्ट कार्ड, जवाबदेही, विकासवाद और सबको साथ लेकर चलने की राजनीति चल रही है। यह मोदी जी की संस्कृति है। जो कहा था, वो किया है और जो नहीं कहा था, वो भी करके दिया है।

यह भी पढ़े : अब झांसी में भी मिलेगा दिल्ली जैसा इलाज, अनुभवी डॉक्टरों से ले सकेंगे ऑनलाइन सलाह

नड्डा ने कहा कि भारत की राजनीति में परिवारवाद, जातिवाद, व्यक्तिवाद, भ्रष्टाचार, वोटबैंक और तुष्टीकरण ही चलता था लेकिन मोदी ने 10 साल में जातिवाद, क्षेत्रवाद और तुष्टीकरण की राजनीति के साथ लोहा लेते हुए विकासवाद की राजनीति को आगे बढ़ाया और मंत्र दिया- सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास। दस साल पहले भारत के सामान्य नागरिक के मन में ये विचार घर कर चुका था कि अब कुछ बदलने वाला नहीं है, राजनीति ऐसी ही होती है, यहां गुंडों का राज चलता रहेगा, लेकिन मोदी के आने बाद भारत की राजनीति में सबकुछ बदला है।

हिन्दुस्थान समाचार

  • Umakant shukla
    Umakant shukla
    महोदय जी भी भृष्टाचारियों को बाँदा-चित्रकूट 48 से टिकट दिया कुछ संगठन के कार्य कर्ताओं के बल बूते पर... कौन नईया परिवर्तन पार कारण है
    2 months ago Reply 0

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
0
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0