गंगा एक्सप्रेसवे भरेगा रफ्तार, निर्माण के लिए मिले 695.34 करोड़ रुपये

मेरठ से प्रयागराज के बीच 596 किलोमीटर सफर जल्द ही सुहाना होने वाला है। मेरठ से प्रयागराज तक 594 किलोमीटर लंबा..

गंगा एक्सप्रेसवे भरेगा रफ्तार, निर्माण के लिए मिले 695.34 करोड़ रुपये

मेरठ से प्रयागराज के बीच 596 किलोमीटर सफर जल्द ही सुहाना होने वाला है। मेरठ से प्रयागराज तक 594 किलोमीटर लंबा गंगा एक्सप्रेसवे बनाया जा रहा है। जमीन खरीदने का काम लगभग पूरा हो चुका है और निर्माण शुरू हो रहा है। यह प्रोजेक्ट तेजी से आगे बढ़ सके, इसके लिए सरकार ने 695 करोड़ 34 लाख रुपये की व्यवस्था की है।

यह भी पढ़ें - गंगा एक्सप्रेसवे के निर्माण में रखा जा रहा पर्यावरण का ध्यान

इस एक्सप्रेसवे पर शाहजहांपुर में वायुसेना के विमानों की आपातकालीन लैंडिंग के लिए हवाई पट्टी भी प्रस्तावित है। किसानों से करीब 3300 बीघे जमीन खरीद कर जिला प्रशासन ने यूपीडा को उपलब्ध करा दिया है। 300 बीघे और जमीन देने की प्रक्रिया चल रही है। एक्सप्रेसवे के निर्माण के लिए बजट की व्यवस्था होने के बाद जल्द ही एक्सप्रेसवे के काम में रफ्तार आएगी और समय से यह बनकर तैयार हो जाएगा।

करीब 596 किलोमीटर लंबे गंगा एक्सप्रेसवे को मेरठ से होकर प्रयागराज तक पहुंचना है। एक्सप्रेसवे रायबरेली जिले की चार तहसीलों लालगंज, डलमऊ, सलोन और ऊंचाहार से गुजरेगा। जिला प्रशासन ने किसानों से जमीन परचेज करके उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) उपलब्ध करा दिया है।  सामान्य तौर से एक्सप्रेसवे का काम भी शुरू हो गया है। प्रदेश सरकार ने बृहस्पतिवार को गंगा एक्सप्रेसवे को 695 करोड़ का बजट एलॉट किया है, जिससे इसके काम में अब रफ्तार आएगी।

यह भी पढ़ें - खुशखबरी : डिफेंस कॉरिडोर को योगी सरकार ने 400 करोड़ देने का किया एलान

जिले की लालगंज तहसील क्षेत्र के रमुवापुर दुबाई, सेमरी, चकगजराज, चकशेरशाह, लच्छीपुर, श्यामपुर, हरीपुर निहस्था, सूरजपुर, निहस्था खास, फतेह सराय, सातनपुर, रानीपुर, उगाभाद, चांदा, यूसुफपुर, डलमऊ तहसील के ऐहार, सुल्तानपुर जाला, देवगांव, रामपुर मजरे ऐहार, उमरामऊ, लोदीपुर उतरावां, जगतपुर कोटहा, रौंसी, अदीलाबाद, तेरुखा, हींगामऊ, कठगर, रसूलपुर गहरवारी, बलीपुर, कुंवरमऊ पकरी, मलपुरा, उबरनी, थुलरई, मेल्थुआ, इस्माइलमऊ, चूली, सुल्तानपुर जनौली, अलावलपुर, बेहीखोर, ऊंचाहार तहसील के शेरंदाजपुर, जलालपुर बेही, चिचौली, धोबहा, जगतपुर, जिंगना, टांघन, गोबर्धनपुर, रामगढ़ टिकरिया, रोझइया भीखमशाह, इटौरा बुजुर्ग, सलारपुर, मिर्जापुर ऐहारी, डिडौली, सुमेरबाग, उमरण, कमालपुर, समसपुर पतौन, लक्ष्मणगंज, बछयापुर, मरहामऊ, रसूलपुर, सलोन तहसील के मीरजहांपुर, कमालापुर, डोमापुर, कोडरी आदि गांवों से एक्सप्रसेवे निकलेगा।

एडीएम (प्रशासन) अमित कुमार का कहना है कि गंगा एक्सप्रेसवे के लिए किसानों से खरीद करके करीब 3300 बीघे जमीन यूपीडा को दी गई है। करीब 300 बीघे जमीन उपलब्ध कराने की प्रक्रिया चल रही है। एजेंसी ने काम भी शुरू करा दिया है। बजट मिलने के बाद काम में तेजी आएगी।

ये खबर आपको अच्छी लगी हो तो इसे लाइक और शेयर जरूर कीजियेगा। या कोई सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स पर कमेंट भी कीजिये।

गंगा एक्सप्रेसवे की अन्य लेटेस्ट अपडेट के लिए देखते रहिये इस वेबसाइट bundelkhandnews.com को।

यह भी पढ़ें - भारत में पहली बार 31 मई को सभी ट्रेनों के पहिए एक साथ थम जायेंगे ?

What's Your Reaction?

like
10
dislike
7
love
26
funny
0
angry
3
sad
11
wow
6