बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे अंतिम छोर पर आवागमन के लिए तैयार, दो रैंप आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे से जुड़ी

चित्रकूट से चलकर इटावा जनपद के ताखा के कुदरेल गांव तक बनने वाले बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का कार्य चित्रकूट और बांदा सहित..

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे अंतिम छोर पर आवागमन के लिए तैयार, दो रैंप आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे से जुड़ी
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे (Bundelkhand Expressway)

चित्रकूट से चलकर इटावा जनपद के ताखा के कुदरेल गांव तक बनने वाले बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का कार्य चित्रकूट और बांदा सहित अन्य जनपदों में अधूरा है लेकिन अंतिम छोर कुदरेल में दो रैंप आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे से जोड़ दी गई हैं, जिसमें किसी भी समय आवागमन शुरू हो सकता है।

वहीं लूप लेन को जोड़ने के फ्लाईओवर पर ग्यारह गर्डर रखे जा चुके हैं जबकि एक छोर से लूप लेन चालू करने के लिए अभी एक गर्डर और रखा जाना है।  चित्रकूट से चलकर इटावा जनपद के ताखा के कुदरैल गांव में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे के किलोमीटर 133 पर मिलने वाले 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को बुधवार को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से जोड़ दिया गया।

यह भी पढ़ें - कैबिनेट की लगी मुहर-केन-बेतवा लिंक प्रोजेक्ट घरातल पर नजर आयेगा

हालांकि अभी दोनो रैंप लखनऊ से आगरा की ओर जाने वाले मार्ग पर ही जोडे़ गए हैं जिसका मतलब चित्रकूट से आगरा की ओर जाने और लखनऊ की ओर से चित्रकूट जाने के वाले वाहनों को कोई समस्या नहीं होगी लेकिन चित्रकूट की ओर से आकर लखनऊ की ओर जाने वाले और आगरा की ओर से आकर चित्रकूट की ओर जाने वाले यात्रियों को एक्सप्रेस-वे पर पहुंचने के लिए डायवर्जन का रास्ता अपनाना पड़ेगा क्योकि बुदेंलखंड एक्सप्रेस-वे को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की दूसरी लेन जो आगरा से लखनऊ की ओर जा रही है उसे लूप लेन कहा जाता है इस लेन को एक्सप्रेस-वे पर जोड़ने के लिए फ्लाईओवर का निर्माण चल रहा है।

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे (Bundelkhand Expressway)

इस फ्लाईओवर पर भी दो लेन होगी, दोनो लेने को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे की लूप लेन में ही जोड़ा जाएगा। दोनों लेनों पर वाहनों को अलग-अलग आने जाने की सुविधा होगी। लूप लेन के लिए बन रहे फ्लाईओवर पर कंपनी फिलहाल एक लेन को तैयार करने में तेजी से जुटी हुई है। एक लेन मे फ्लाईओवर पर 12 गर्डर रखे जाने हैं जिसमें ग्यारह गर्डर रखे जा चुके हैं। एक गर्डर और रखा जाना शेष है। जिसके बाद फ्लाईओवर की एक लेन को भी चालू किया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें - पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के बाद बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की सौगात की तैयारी, एसीएस होम ने किया जमीनी व हवाई सर्वे

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर सड़क का निर्माण तो लगभग सभी जगह अंतिम चरण में है। तमाम जगह तो फिनशिग का कार्य भी चलने लगा है लेकिन जिन स्थानों पर बड़े-बड़े पुल बन रहे हैं वहां पर अभी एक छोर से दूसरे छोर की कनेक्टिविटी डायवर्जन मार्ग के सहारे ही है। उसमें भी जिन स्थानों पर रेलवे लाइन गुजरने वाली जगह पर फ्लाईओवर बन रहे हैं वहां डायवर्जन में भी समस्याएं आ सकती हैं हालांकि अभी तक इसके उद्घाटन की तारीख तय नही हुई है।

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे (Bundelkhand Expressway)

इटावा जनपद में काम करने वाली कंपनी दिलीप बिल्डकान ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को जोड़कर आवागमन शुरू करने की तैयारी पूरी कर ली है। कंपनी के प्रोजेक्ट हैड उत्तम कुमार ने बताया दो रैंपो को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से जोड़ दिया गया है। मार्ग को चालू करने का आदेश जारी होगा तो तत्काल मेटल बीम को हटा कर आवागमन शुरू कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें - विधानसभा चुनाव से पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के बाद योगी सरकार बुंदेलखंड को बड़ा उपहार देने की तैयारी में

What's Your Reaction?

like
5
dislike
0
love
3
funny
0
angry
0
sad
0
wow
1