धर्म नगरी चित्रकूट के पर्यटन विकास को संकल्पित है योगी सरकार - चन्द्रिका उपाध्याय

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भगवान श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट के पर्यटन विकास को संकल्पित है...

धर्म नगरी चित्रकूट के पर्यटन विकास को संकल्पित है योगी सरकार - चन्द्रिका उपाध्याय

  • बेहतर परिवहन सेवा बनेगी धर्म नगरी चित्रकूट के विकास का आधार - आर के सिंह पटेल
  • हरी झंडी दिखा मंत्री और सांसद ने किया रोडवेज बस सेवा का शुभारम्भ

पर्यटकों एवं तीर्थ यात्रियों की सुविधा के मद्देनजर शुक्रवार को सूबे के लोक निर्माण राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय एवं बांदा-चित्रकूट सांसद आर के सिंह पटेल ने हरी झंडी दिखाकर चित्रकूट जिले के ग्रामीण अंचलों को जोड़कर बांदा और प्रयागराज तक चलने वाली दो बसों का शुभारंभ किया।

इस मौके पर मंत्री श्री उपाध्याय और सांसद श्री पटेल ने कहा कि जल्द ही चित्रकूट बस स्टेशन में डिपो की स्थापना होगी। जिससे संचालित होने वाली दो सैकडा से अधिक नई बसे अयोध्या,मथुरा,काशी,विंध्याचंल,आगरा समेत सभी प्रमुख पर्यटक स्थलों को परिवहन सेवा से जोड़ने का काम करेगी।

यह भी पढ़ें : कोशिश करने वालों की हार नहीं होती

शुक्रवार को चित्रकूट बस स्टेशन से उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय एवं बांदा-चित्रकूट सांसद आर के सिंह पटेल ने दो नई बसों का शुभारंभ किया। संचालित हो रहीं बसों में से एक चित्रकूट जिले के रसिन गांव को जोड़कर ऐतिहासिक कांलिंजर किला होते हुए बांदा तक जायेगी। वहीं दूसरी बस जिले के रगौली जिला कारागार समेत कई आसपास के कई गांवों को जोड़ते हुए प्रयागराज तक संचालित होगी। दो नई बसों के संचालित होने से ग्रामीणों को आवागमन में खासी सुविधा होगी। साथ ही डग्गामार वाहनों से शोषण से आजादी मिलेगी।

इस मौके पर राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्ययाय ने कहा कि प्रदेश प्रदेश की योगी सरकार धर्म नगरी चित्रकूट के पर्यटन विकास के प्रति संकल्पित है। उन्होंने कहा कि बांदा-चित्रकूट सांसद आर के सिंह पटेल एवं उनकी पहल पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा चित्रकूट बस स्टेशन में जल्द ही डिपो की स्थापना करने का ऐलान किया गया है। इसके बाद करीब दो सैकड़ा से अधिक बसें चित्रकूट डिपो के नाम से प्रदेश के विभिन्न रूटो पर संचालित होने लगेगी। जिससे प्रति माह चित्रकूट में होने वाले अमावस्या आदि मेले में आने वाले लाखों श्रद्धालुओं को बेहतर परिवहन सुविधा मिल सकेगी।

यह भी पढ़ें : चीनी राखी से सस्ती हैं सेवा भारती की राखियां

वहीं बांदा-चित्रकूट सांसद आर के सिंह पटेल ने कहा कि चित्रकूट बुंदेलखंड का सबसे पिछड़ा एवं आकांक्षी जिला है। केंद्र की मोदी और प्रदेश  की योगी सरकार जिले के बुनियादी ढांचा को निरंतर मजबूत करने में जुटी हुई है। भगवान श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट को पर्यटन हब बनाने के सतत प्रयाय किये जा रहे हैं।

इस मौके पर सांसद प्रतिनिधि शक्ति प्रताप सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता राजीव गर्ग, एआरएम परमानंद, स्टेशन इंचार्ज जितेंद्र त्रिपाठी, सहायक यातायात निरीक्षक राजेंद्र सिंह तथा बुकिंग क्लर्क प्रेमलाल सिंह आदि मौजूद रहे। 
 
हिन्दुस्थान समाचार