ब्रिटिश कम्पनी चित्रकूट में लगाएगी खमीर प्लांट, मिलेगा 5000 लोगों को रोजगार

केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट के चहुमुखी विकास को संकल्पित है..

ब्रिटिश कम्पनी चित्रकूट में लगाएगी खमीर प्लांट, मिलेगा 5000 लोगों को रोजगार
(फाइल फोटो)

  • यूपी इन्वेस्टर समिट का बड़ा असर बुंदेलखंड की धर्मनगरी में बदल रहा तस्वीर 
केंद्र की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम की तपोभूमि चित्रकूट के चहुमुखी विकास को संकल्पित है। रामायण सर्किट समेत अन्य महत्वाकांक्षी योजनाओं के जरिये करोड़ों की लागत से धार्मिक, पौराणिक और ऐतिहासिक स्थलों के पर्यटन विकास किया जा रहा है।
 
इसके साथ ही एयरपोर्ट का निर्माण कराकर धर्म नगरी चित्रकूट को देश के प्रमुख महानगरों से जोड़ने की कवायद पहले से ही चल रही है। वहीं, योगी सरकार द्वारा ब्रिटिश कम्पनी को 400 करोड़ की लगात से चित्रकूट में उद्योग लगाने के लिए 68 एकड़ जमीन का आवंटन किये जाने से लम्बे अरसे से बेरोजगारी का दंश झेल रहे चित्रकूट के युवाओं में खुशी की लहर दौड़ गई है।
बता दें कि, धर्म नगरी के पर्यटन विकास को संकल्पित सूबे की योगी सरकार द्वारा अब बेरोजगारी दूर करने की दिशा में ठोस कार्य किया जा रहा है। सरकार की पहल से सूबे के आकांक्षी जिले मेें शामिल बुंदेलखंड के चित्रकूट जनपद में ब्रिटिश कंपनी एबी मोरी द्वारा 400 करोड़ की लगात से खमीर उत्पादन की इकाई स्थापित की जायेगी। जिसके बाद देश से खमीर का निर्यात शुरू हो जायेगा। मेगा औद्योगिक यूनिट की स्थापना के लिए यूपीसीडा ने कंपनी को 68 एकड़ जमीन का आवंटन कर दिया है।
 
बांदा-चित्रकूट सांसद आर. के. सिंह पटेल ने बताया कि 2018 में आयोजित यूपी इन्वेटर समिट का असर अब दिखने लगा है। जिले के मानिकपुर सीट से विधायक रहते उन्होेंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चित्रकूट जिले के मानिकपुर और बरगढ़ में औद्योगिक इकाईयां स्थापित कराये जाने का अनुरोध किया था। इस सम्मेलन में देश-विदेश के प्रमुख उद्योग पतियों ने सीएम योगी के अनुरोध पर यूपी में उद्योग लगाने का इच्छा जताई थी।
  • योगी सरकार की पहल पर चित्रकूट के पर्यटन के साथ रोजगार की बढ़ रही संभावनाएं लाएगी नई क्रांति
 उसी क्रम में ब्रिटिश कम्पनी के बुंदेलखंड के चित्रकूट में औद्योगिक इकाई की स्थापना का रास्ता साफ होने से क्षेत्र के करीब पांच हजार लोगों से अधिक लोगों को रोजगार मिल सकेगा। उन्होेंने बताया कि चित्रकूट जिले के बरगढ़ इलाके में आवंटित की कई जमीन पर कंपनी द्वारा जर्मन एवं स्पेन की मशीनें लगाई जाएंगी, जो 33 हजार मिलियन टन खमीर का उत्पादन करेगी। उत्पादन की सारी प्रक्रिया जीरो लिक्विड डिस्चार्ज पर आधारित होगी। उन्होंने बताया कि यूपीसीडा ने महज 15 दिनों के अंदर निवेश मित्र पोर्टल के जरिए जमीन का आवंटन सस्ती दरों पर किया है।
 
भाजपा जिलाध्यक्ष चंद्र प्रकाश खरे का कहना है कि योगी सरकार की चित्रकूट में औद्योगिक विकास की पहल की जमकर सराहना की है। ब्रिटिश की कंपनी एबी मौरी खमीर के उत्पादन में विश्व की जानी-मानी कंपनियों में से एक है।
कंपनी का सालाना टर्नओवर 1.2 बिलियन यूएस डालर का है। कंपनी ने 32 देशों में 52 प्लांट लगाए हैं। बताया कि विश्व में 45 प्रतिशत खमीर का उत्पादन अकेले यही कंपनी करती है। कंपनी द्वारा मेगा यूनिट लगाने से बुंदेलखंड के चित्रकूट जैसे पिछड़े जिले में औद्योगिक विकास को गति मिलेगी। बताया कि कम्पनी द्वारा खमीर उत्पादन के लिए मुख्य फसल के रूप में गन्ना और गेहूं का इस्तेमाल किया जाएगा जो आसपास के किसानों से कंपनी द्वारा सीधे खरीदा जाएगा। इससे क्षेत्र के किसानों को भी खासा लाभ होगा।
 
वरिष्ठ भाजपा नेता पंकज अग्रवाल का कहना है कि बेरोजगारी बुंदेलखंड की सबसे बड़ी समस्या है। चित्रकूट समेत बुंदेलखंड के कई जिलों के हजारों बेरोजगार युवक काम की तलाश में सूरत, मुम्बई, दिल्ली और लुधियाना आदि महानगरों की ओर पलायन करने को मजबूर रहे है। लोगों को रोजी-रोटी के लिए अपना घर-परिवार तक छोड़कर जाना पड़ता रहा है। लेकिन योगी सरकार की नई पहल से क्षेत्र के युवाओें का पलायन रूकने की आस जगी है। चित्रकूट के बरगढ़ में ब्रिटिश कम्पनी द्वारा औद्योगिक इकाई लगाने से हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा। उन्होंने बुंदेलखंड के औद्योगिक विकास की पहल के लिए सूबे की योगी सरकार की जमकर सराहना की।
हिन्दुस्थान समाचार

What's Your Reaction?

like
7
dislike
2
love
2
funny
1
angry
1
sad
1
wow
1