पत्नी ने प्रेमी के संग मिलकर कराई पति की हत्या, पुलिस ने पत्नी सहित चार अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

शहर कोतवाली अंतर्गत ग्राम सुहाना में एक सप्ताह पूर्व हुई हत्या का पुलिस ने खुलासा करते हुए मृतक की पत्नी सहित चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है।पत्नी ने प्रेम संबंधों के चलते अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कराई थी।

पत्नी ने प्रेमी के संग मिलकर कराई पति की हत्या, पुलिस ने पत्नी सहित चार अभियुक्तों को किया गिरफ्तार
Murder-Banda

घटना की जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने बताया कि 26 जून को सरेशाम ग्राम सुहाना निवासी कल्लू पुत्र चुनकउना की गोली व कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी गई थी। इस संबंध में शहर कोतवाली प्रभारी दिनेश सिंह व उनकी टीम द्वारा घटना की छानबीन शुरू की गई। इस मामले में रज्जन पुत्र जज्जु यादव, रामदीन पुत्र लक्ष्मण यादव के नाम प्रकाश में आए। विवेचना के दौरान इस मामले में मृतक की पत्नी पंचवटी और भूरा उर्फ चंद्रप्रकाश के नाम प्रकाश आये।

आज पुलिस ने इन अभियुक्तों को केन नदी के पास से गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से दो तमंचा 315 बोर, दो जिंदा कारतूस, एक खोखा तथा एक कुल्हाड़ी बरामद की गई। अभियुक्तों से पूछताछ में पाया गया कि रामदीन व मृतक की पत्नी श्रीमती पंचवटी के बीच अवैध संबंध थे। जिसके कारण आए दिन में कल्लू व उसकी पत्नी पंचवटी के बीच झगड़ा होता था। पंचवटी 1 वर्ष पूर्व अपने मायके रूरी पहरी थाना ललौली जनपद हमीरपुर चली गई थी।

यह भी पढ़ें : पम्पापुर आश्रम में बदमाशों ने हनुमान मंदिर का ताला तोड़ की लूटपाट

इधर पंचवटी व रामदीन के बीच फोन पर वार्ता होती रहती थी। इस  बीच रामदीन ने  पंचवटी के साथ मिलकर योजना बनाई कि कल्लू को रास्ते से हटा दिया जाए तथा कल्लू की सारी जमीन पंचवटी के नाम आ जाएगी और फिर दोनों लोग शादी करके मौज करेंगे। इस योजना में रामदीन ने रज्जन यादव को तीन लाख रुपए व 10 बीसवा जमीन देने की बात कह कर अपने साथ मिला लिया और इसके लिए पंचवटी से बात भी कराई। रज्जन ने अपने रिश्तेदार भूरा को डेढ़ लाख रुपए देने की बात कहकर कल्लू की हत्या करने के लिए बुलाया और फिर इन सभी ने 26 जून को हत्या करने की योजना बनाई।

यह भी पढ़ें : कमासिन में प्रधानी चुनाव की रंजिश में हुआ खून खराबा

उधर पत्नी पंचवटी ने कल्लू को अपने मायके बुलाया और कहा कि तुम आ जाओ तो फिर मैं यहां से चलूंगी। कल्लू उसे लेकर मोटरसाइकिल से वापस अपने गांव आ रहा था। इस बीच पत्नी फोन से रामदीन को बराबर लोकेशन देती रही, जिससे गांव के बाहर तीनों अभियुक्त झाड़ी में छुपकर कल्लू के आने का इंतजार करते रहे। कल्लू को मोटरसाइकिल में अपनी पत्नी और बच्ची के साथ आते देखने पर भूरा के द्वारा मुंह बांधकर गाड़ी रोककर फायर किया गया तो कल्लू बचते हुए नीचे गिर गया। तभी रज्जन ने उसे गोली मार दी और रामदीन ने पुनः कुल्हाड़ी से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। अभियुक्तों की निशानदेही पर मृतक की पत्नी पंचवटी को गिरफ्तार किया गया। रज्जन और रामदीन सुहाना गांव के ही रहने वाले हैं जबकि भूरा उर्फ चंद्र प्रकाश बनसखा थाना गिरवा का निवासी बताया गया।  भूरा  शातिर अपराधी बताया जाता है। उसके खिलाफ गिरवा, अतर्रा थाना में आधा दर्जन मुकदमे दर्ज हैं।