कमासिन में प्रधानी चुनाव की रंजिश में हुआ खून खराबा

जनपद के कमासिन  थाना क्षेत्र के बंथरी गांव में ग्राम प्रधानी के चुनाव को लेकर दोनों पक्षों में कई वर्षों से तनातनी चली आ रही थी और इसी रंजिश के चलते बीती रात गांव में दो व्यक्तियों की हत्या करने की साजिश रची गई जिसमें एक की मौत हो गई और एक जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। 

कमासिन में प्रधानी चुनाव की रंजिश में हुआ खून खराबा

बाँदा

चुनाव में पराजय होने के बाद शिव भवन गर्ग व शिवदास विश्वकर्मा ने एकजुट होकर वर्तमान प्रधान श्रीमती वर्षा गौतम की शिकायत मंडलायुक्त सहित शासन से की थी। इसी के चलते प्रधान पक्ष में ढाई साल पहले शिव भवन गर्ग व उसके बेटे को लाठियों से पीट दिया था। जिसका मुकदमा स्थानीय थाने में दर्ज कराया गया था। इससे दोनों पक्षों में और तनातनी बढ़ गई थी, इसी के कारण फरवरी 2019  में दोनों पक्षों में उन्हें मारपीट हो गई थी।

जिसमें स्थानीय थाने में दोनों पक्षों की तरफ से चार चार व्यक्तियों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। डेढ़ साल की चुप्पी के बाद सोमवार की रात को पुन खूनी संघर्ष हो गया, जिसमें शिव भवन गर्ग व शिवदास विश्वकर्मा  ने रामस्वरूप व कल्लू को घेरकर रात करीब 11 बजे जब दोनों अपने अपने वोर जा रहे थे। लाठी बर्छी से प्रहार करके दोनों को गंभीर रूप से घायल कर दिया था। जिसमें रामस्वरूप की इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई है तथा कल्लू जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहा है। स्थानीय थाने मे शिव भवन, शिवदास सहित 8 व्यक्तियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया गया है।

रामस्वरूप व कल्लू गौतम दोनों प्रधान पक्ष की तरफ से डेढ़ साल पूर्व हुए झगड़े के गवाह थे, साथ ही दोनों अविवाहित भी थे। रामस्वरूप गौतम पांच भाइयों में दूसरे नंबर का था। इसके अलावा कल्लू गौतम तीन भाइयों मैं सबसे बड़ा था कल्लू भी अविवाहित था। गवाह बनने के कारण यह दोनों हमलावरों के निशाने पर थे। मृतक के भाई नाथू प्रसाद द्वारा  मुकदमा दर्ज कराया गया है।

प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार सिंह ने बताया है धारा 147 148 323 504 506 वह 304 में मुकदमा दर्ज किया गया है। अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी की जाएगी, सूचना सीओ बबेरू राजीव प्रताप सिंह ने भी घटनास्थल का दौरा करके आवश्यक जानकारी ली है।इस बीच इस बीच पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने भी थानाध्यक्ष को निर्देश दिया है कि हर हालत में शाम तक हत्याभियुक्तो को गिरफ्तार किया जाए।