कैसे बने उत्तम प्रदेश, यंग थिंकर्स मीट में होगा मंथन

कैसे बने उत्तम प्रदेश,  यंग थिंकर्स मीट में होगा मंथन

लखनऊ

उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के लिए दो दिवसीय उत्तर प्रदेश यंग थिंकर्स वर्चुअल मिट दिनांक 27 व 28 जून, 2020 को #लोकनीति द्वारा आयोजित किया जा रहा है। इस वर्चुअल मिटिंग के उद्घाटन में बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव राममाधव जी के उद्बोधन से होगा। राममाधव जी उत्तर प्रदेश के विकास के यंग थिंकर्स के साथ मंथन करेंगे। जिससे आने वाले समय में उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के लिए रोडमैप तैयार किया जा सके। वहीं इस वर्चुअल मिट के समाहर सत्र को राज्यसभा के पूर्व उपसभापति एवं वरिष्ठ पत्रकार श्री हरिवंश युवाओं को संबोधित करेंगे। हरिवंश जी का उद्बोधन भारतीय अर्थ चिंतन, वैश्वीकरण और स्वावलंबन पर केंद्रित रहेगा। वहीं दो दिन तक चलने वाले इस वर्चुअल मिट के विभिन्न सत्रों में अलग- अलग विषयों पर मंथन होगा।

पहले दिन के सत्र उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री सुरेश राणा जी, प्रदेश के विकास के लिए रोडमैप तैयार करने के लिए पूर्वांचल विकास बोर्ड सलाहकार साकेत मिश्रा जी के वैचारिक मंथन करेंगे। इसी सत्र में यंग अचिवर्स के रूप में असम स्टेट ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के महानिदेशक आनंद प्रकाश तिवारी जी अपनी बात रखेंगे। इस सत्र में यंग लीडर के रूप में राज्यसभा सांसद सुधांशु त्रिवेदी जी वैचारिक हस्तक्षेप करेंगे। 

इस वर्चुअल मिट के  दूसरे दिन के पहले सत्र उत्तर प्रदेश में निवेश की संभावना, अर्थव्यवस्था पर चर्चा होगी। इस सत्र में नोकिया ग्लोबल के वाइस चेयरमैन अजय मेहता जी, प्रतिस्पर्धा संस्थान के  चेयरमैन अमित कपूर जी, यंग लीडर के रूप में लोकसभा की सदस्य डॉ रीता बहुगुणा जी और यंग एचीवर्स के रूप उत्तर प्रदेश सरकार के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी जी सहभागी होगें। वहीं दूसरे सत्र में पर्यटन और संस्कृति के क्षेत्र में अवसर पर लोकगायिका पद्मश्री मालिनी अवस्थी जी के संग वरिष्ठ पत्रकार भूपेन चौबे मंथन करेंगे। 

लोकनीति निदेशक डॉ. सत्येन्द्र मणि त्रिपाठी ने बताया कि लोकनीति द्वारा आयोजित इस वर्चुअल मिटिंग में देश और दुनिया के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड के इंटरप्रेन्योर, शोधार्थी, सरोकारी और चिंतनशील युवा जुड़ेंगे। इस वर्चुअल मिट का उद्देश्य उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश के रूप विकसित करने की संभावना और उसमें युवाओं की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए किया जा रहा है। यह अपने तरह का पहला वर्चुअल मिट है।