प्रदेश में हाॅटस्पाॅट की संख्या बढ़कर 10350 पहुंची : अपर मुख्यसचिव

प्रदेश में कोरोना के तेजी से प्रसार के कारण अब हॉटस्पॉट की संख्या बढ़कर 10,350 हो गई है। इन हॉटस्पॉट के 1,105 थानान्तर्गत 14,35,385 मकानों के 85,60,636 लोगों को चिह्नित किया गया है। इन हॉटस्पॉट क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 41,490 है। इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन किये गये लोगों की संख्या 20,077 है...

प्रदेश में हाॅटस्पाॅट की संख्या बढ़कर 10350 पहुंची : अपर मुख्यसचिव
Corona Update, Uttar Pradesh

लखनऊ

अपर मुख्य सचिव-गृह अवनीश अवस्थी ने सोमवार को बताया कि पुलिस विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही में अब तक धारा 188 के तहत 1,79,818 लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई। प्रदेश में अब तक 1,20,01,557 वाहनों की सघन चेकिंग में 67,070 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 60,56,68,329 रुपये का शमन शुल्क वसूल किया गया। आवश्यक सेवाओं के लिए कुल 3,47,883 वाहनों के परमिट जारी किये गये हैं।

यह भी पढ़ें : एक व्यक्ति वैद्य बनकर आया और उपचार के बहाने महंत सुखराम दास को खिलाया जहरीला पदार्थ, मौत

उन्होंने बताया कि कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1,062 लोगों के खिलाफ 785 एफआईआर दर्ज करते हुए 390 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार फेक न्यूज पर कड़ाई से नजर रख रही है। फेक न्यूज के तहत अब तक 2,173 मामलों का संज्ञान में लेते हुए साइबर सेल को सूचित किया गया है जो जांच के बाद कार्रवाई सुनिश्चित करेगा।  

अपर मुख्य सचिव-गृह ने बताया कि निर्माण कार्यों से जुडे़ 18.23 लाख श्रमिकों, नगरीय क्षेत्र के 8.91 लाख श्रमिकों तथा ग्रामीण क्षेत्रों के 6.74 लाख निराश्रित व्यक्तियों को एक-एक हजार के आधार पर कुल 33.88 लाख लोगों को 338.78 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है। निर्माण कार्यों से जुडे़ 17.02 लाख श्रमिकों को द्वितीय किश्त का भी भुगतान किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें : हमीरपुर में मराठाकालीन मंदिर में कोरोना के कारण जन्माष्टमी की नहीं मचेगी धूम

प्रदेश की पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेन्ट एवं मास्क सहित कुल 97 इकाइयां क्रियाशील हैं। प्रदेश में 1127 फ्लोर मिल, 503 तेल मिल एवं 357 दाल मिल संचालित की जा रही हैं।

देश में हाॅटस्पाॅट वाले बस्तियों की अनुमानित जनसंख्या 84,88,997 के सापेक्ष 14,810 डोर स्टेप डिलिवरी मिल्क बूथ-मैन के द्वारा दूध वितरित किया गया है। डोर स्टेप डिलिवरी 'फल, सब्जी आदि' कुल 16,195 वाहन लगाये गये हैं। डोर स्टेप डिलिवरी वाले प्रोविजन स्टोर की संख्या 13,901 है। प्रोविजन स्टोर के माध्यम से डिलिवरी करने वालों की संख्या 14,022 है। हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में कुल 26 प्रचलित सामुदायिक किचन हैं। इन बस्तियों में 19,47,590 राशन कार्डों पर खाद्यान्न वितरण किया गया है। इसके अतिरिक्त सरकारी संस्थाओं, सामुदायिक किचन के माध्यम से 3018 नागरिकों को लाभान्वित तथा धार्मिक, स्वैच्छिक संस्थाओं के माध्यम से 717 नागरिकों को लाभान्वित किया गया है।

यह भी पढ़ें : रोजगार के मुद्दे पर प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा

हिन्दुस्थान समाचार