रोजगार के मुद्दे पर प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा, पूछा- कितने एमओयू जमीन पर उतरे

उत्तर प्रदेश में बेरोजगारी की समस्या को लेकर कांग्रेस पार्टी लगातार योगी सरकार पर हमलावर रही है। वहीं कोरोना के संकट काल और लॉकडाउन को लेकर पिछले कुछ दिनों में नौकरी चले जाने की वजह से आत्महत्या के मामले भी सामने आए हैं...

रोजगार के मुद्दे पर प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा, पूछा- कितने एमओयू जमीन पर उतरे

नई दिल्ली

ऐसे में अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने योगी सरकार से रोजगार के मुद्दे पर सवाल किया है। उन्होंने पूछा है कि उप्र में हर साल एमओयू साइन होते हैं, तो धरातल पर इनका असर कितना हुआ है। कितने लोगों को रोजगार मिला है।

प्रियंका गांधी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, "हर साल इन्वेस्टर्स समिट में एमओयू साइन होते हैं। करोड़ों लगाकर इन समिट में ये काम कागजी शेर बनने के लिए किया जाता है। उप्र में भयंकर बेरोजगारी है और आर्थिक तंगी की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं। सरकार को ये बताना चाहिए कितने एमओयू धरातल पर उतरे? कितने युवाओं को रोजगार मिला?"

यह भी पढ़ें : पिछले 24 घंटों में कोरोना के 62 हजार नए मामले

वहीं रोजगार के मसले पर कांग्रेस पार्टी ने उत्तर प्रदेश के साथ केंद्र को भी निशाने पर लिया है। कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर कहा, "मुझे मालूम है कि हर साल दो करोड़ नौकरी देने का वादा कोरोना की स्थिति में मुश्किल है। ऐसे में हमारी संवेदना सरकार के साथ है वो चाहे तो दो लाख नौकरी भी दे सकती है, बजाय कि पार्टी का फंड भरने पर ध्यान दे रही है।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते दिन रविवार को केंद्र की मोदी सरकार को घेरते हुए 'रोजगार दो' नामक अभियान की शुरुआत की थी। जिसके तहत सरकार की घेराबंदी करते हुए आम लोगों को इस अभियान से जुड़ने की अपील भी की थी। राहुल ने कहा था कि सरकार को युवाओं के मन की बात करनी चाहिए, जिसमें रोजगार की बात हो।

यह भी पढ़ें : खतरनाक ​'​टेबलटॉप​'​ रनवे ने ली 16 लोगों की जान...

हिन्दुस्थान समाचार