रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए बुन्देलखण्ड एक बड़ा सेंटर बनेगा : प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि बुन्देलखण्ड के करीब 10 लाख गरीब बहनों को इस दौरान मुक्त गैस सिलेंडर दिए गए हैं। लाखों बहनों के जनधन खाते में हजारों करोड़ों रुपए जमा किए गए हैं...

रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए बुन्देलखण्ड एक बड़ा सेंटर बनेगा : प्रधानमंत्री

वह दिन दूर नहीं जब वीरों की भूमि झांसी और इसके आसपास का क्षेत्र देश को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक बड़ा सेंटर बनेगा। यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कही है।

यह भी पढ़ें - बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे : चित्रकूट से इटावा के निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ़्तार

उन्होंने कहा कि कभी रानी लक्ष्मीबाई ने बुन्देलखण्ड की धरती पर गर्जना की थी मैं अपनी झांसी नहीं दूंगी। आज एक नई गर्जना की आवश्यकता है। मेरी झांसी मेरा बुन्देलखण्ड, का नारा देते हुए कहा कि बुन्देलखण्ड आत्मनिर्भर भारत अभियान को सफल बनाने के लिए पूरी ताकत लगा देगा।

एक नया अध्याय लिखेगा इसमें बहुत बड़ी भूमिका कृषि की भी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे हो या फिर डिफेंस कॉरिडोर हजारों करोड़ों रुपए की है प्रोजेक्ट यहां रोजगार के अवसर बनाने का काम करेंगे।

यह भी पढ़ें - धर्म नगरी चित्रकूट से शीघ्र शुरू होगी हवाई यात्रा, रूट हुआ तय

उन्होने कहा कि कोरोना के खिलाफ बुन्देलखण्ड के लोग डटे हुए है,सरकार भी निरंतर प्रयास कर रही है कि लोगों को कम से कम दिक्कत हो, गरीब का चूल्हा जलता रहे , इसके लिए यूपी के करोड़ों गरीब और ग्रामीण परिवारों को मुफ्त राशन दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें - बुंदेलखंड में डेढ़ लाख से अधिक गर्भवती को मिला लाभ

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि बुन्देलखण्ड के करीब 10 लाख गरीब बहनों को इस दौरान मुक्त गैस सिलेंडर दिए गए हैं। लाखों बहनों के जनधन खाते में हजारों करोड़ों रुपए जमा किए गए हैं।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज स्पेशली बुन्देलखण्ड की बात की है, उन्होंने वह बात की है जिसे बुन्देलखण्ड न्यूज़ विगत 7 वर्षों से उठा रहा है। हमारी मुहिम में हमारे प्रधानमंत्री का यह कथन निश्चित ही इस मुहिम को और भी बल देता है। अब वह दिन दूर नहीं जब बुन्देलखण्ड सिर्फ चलेगा ही नहीं बल्कि दौड़ेगा भी।

बुन्देलखण्ड न्यूज़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बात के लिए धन्यवाद देते हुए आम जनमानस से भी अपील करता है की आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ने का यह सर्वोत्तम समय है। यही वह समय है जब हमें अपने बुन्देलखण्ड से जुड़ाव और मजबूत करना होगा, अपने बुन्देलखण्ड से प्यार करना होगा। तभी तो हमारा नारा है, I Love Bundelkhand