बांदा में केन और यमुना नदी का बढ़ा जलस्तर

झमाझम बारिश के बाद केन नदी और यमुना नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है, जिससे नदी के किनारे बसे गांवों को खतरा उत्पन्न हो गया है..

बांदा में केन और यमुना नदी का बढ़ा जलस्तर
केन नदी का बढ़ा जलस्तर

मध्यप्रदेश की घाटियों में हो रही झमाझम बारिश के बाद केन नदी और यमुना नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। जिससे नदी के किनारे बसे गांवों को खतरा उत्पन्न हो गया है।

यह भी पढ़ें - बाँदा : कोरोना संक्रमित की मौत के बाद परिवार के 24 संक्रमित

मध्य प्रदेश से होकर बांदा शहर से होते हुए यमुना नदी पर मिल जाने वाली केन नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है दोपहर 2 बजे तक जलस्तर 100.68 मीटर पहुंच गया है नदी में डेंजर लाइन 104 मीटर है इसी तरह जनपद के चिल्ला स्थित यमुना नदी में जलस्तर बढ़कर 93.22 मीटर पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें - बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे : चित्रकूट से इटावा के निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ़्तार

इस आशय की जानकारी देते हुए केंद्रीय जल आयोग क जेईे डीके मीणा ने बताया कि  मध्यप्रदेश की घाटियों में हो रही वर्षा के कारण नदी का जलस्तर बढ़ा है लेकिन अभी दोनों नदियां खतरे के निशान से नीचे बह रही है। खतरे का निशान पार करते ही नदी के किनारे स्थित गांव में बाढ़ का खतरा उत्पन्न हो जाता है।

इधर केन तट पर दर्शकों की भीड़ लगी है। मौके पर सीओ सिटी आलोक मिश्रा ने केन नदी का जायजा लिया और गणेश चतुर्थी विसर्जन करने वालों को केन नदी से दूर रहने को अगाह किया।