जेई 10 वर्षों से कर रहा था छोटे बच्चों का यौन शोषण, सीबीआई ने किया गिरफ्तार

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने छोटे बच्चों का यौन शोषण करने के आरोप में उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई विभाग में तैनात जूनियर इंजीनियर रामभवन को किया गिरफ्तार..

जेई 10 वर्षों से कर रहा था छोटे बच्चों का यौन शोषण, सीबीआई ने किया गिरफ्तार
सीबीआई (फाइल फोटो)

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने छोटे बच्चों का यौन शोषण करने के आरोप में उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई विभाग में तैनात जूनियर इंजीनियर रामभवन को गिरफ्तार किया है। उक्त इंजीनियर की उम्र 40 साल से भी कम बताई जाती है छापेमारी के दौरान ₹8 लाख नगद, अनेक सेक्स करने वाले खिलौने लैपटॉप तथा यौन शोषण से संबंधित आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है।

यह भी पढ़ें - चित्रकूट : सिंचाई विभाग के दो इंजीनियरो के घर सीबीआई टीम का छापा

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने छोटे बच्चों का यौन शोषण करने के आरोप में उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई विभाग में तैनात जूनियर इंजीनियर रामभवन को गिरफ्तार किया है । उक्त इंजीनियर की उम्र 40 साल से भी कम बताई जाती है छापेमारी के दौरान ₹8 लाख नगद अनेक सेक्स करने वाले खिलौने लैपटॉप तथा यौन शोषण से संबंधित आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है। आरोप है कि सेक्सी खिलौनों का प्रयोग आरोपी 5 साल से 16 साल तक के बच्चों को लुभाने के लिए किया करता था।

सीबीआई प्रवक्ता आरके गौड़ के मुताबिक आरोपी के खिलाफ उत्तर प्रदेश के जिला चित्रकूट समेत बांदा तथा आसपास के जिलों में बच्चों के यौन शोषण का आरोप था। यह भी आरोप था कि आरोपी के साथ कुछ और लोग भी शामिल थे यह लोग बच्चों के साथ यौन शोषण करने के बाद उनकी वीडियो तथा अन्य तस्वीरें उतार कर बेचने का काम भी करते थे। यह भी आरोप है कि बाल यौन शोषण सामग्री वाली तस्वीरों और वीडियो को आरोपी द्वारा इंटरनेट की सुविधा का उपयोग कर प्रकाशित और प्रसारित भी किया जाता था इसके लिए यह लोग डार्क वेब का उपयोग किया करते थे।

यह भी पढ़ें - अरे ये क्या भैया, बाँदा में एक पेड़ से निकल रहा इतना सारा पानी

सीबीआई के मुताबिक यह भी आरोप है कि आरोपियों ने कथित तौर पर 5 साल से 16 साल की बच्चों को लुभाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सामानों और गैजेटो का  इस्तेमाल किया। सीबीआई ने इन आरोपियों के घरों पर जब तलाशी ली तो ₹8 लाख  नगद, मोबाइल फोन, लैपटॉप, वेब कैमरा, पेन ड्राइव, मेमोरी कार्ड, अनेक सेक्सी खिलौनों समेत इलेक्ट्रॉनिक स्टोरेज डिवाइस बरामद हुए।  सीबीआई के आला अधिकारी के मुताबिक आरोपी के ईमेल की जांच से पता चला है कि वह बाल यौन शोषण सामग्री साझा करने के उद्देश्य से कथित तौर पर कई भारतीय और विदेशी नागरिकों के संपर्क में भी था ।

JE, Irrigation Department Chitrakoot arrested

आरोपी ने इंटरनेट पर सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म और वेबसाइटों का उपयोग करते हुए डार्क नेट इत्यादि के माध्यम से कथित तौर पर बाल यौन उत्पीड़न सामग्री को भारी मात्रा में बनाया और उन्हें साझा किया। गिरफ्तार आरोपी को आज सीबीआई की विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया। ध्यान रहे कि बाल यौन शोषण से संबंधित मामलों की जांच के लिए सीबीआई ने दिल्ली मुख्यालय में एक विशेष यूनिट की स्थापना की है जहां इस तरह के मामलों की जांच की जाती है।

यह भी पढ़ें - बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य से संबंधित गतिविधियों की एक झलक

What's Your Reaction?

like
2
dislike
2
love
1
funny
1
angry
1
sad
0
wow
0