पन्ना टाइगर रिजर्व में हाथी को आया गुस्सा और फिर...

 हाथी सीधा-साधा भारी भरकम जानवर है अगर उसे गुस्सा आ जाता है तो फिर वह भारी तबाही मचाता है ,यहां तक की लोगों की जान ले लेता है। कुछ ऐसा ही जनपद पन्ना के पन्ना टाइगर रिजर्व में हुआ...

पन्ना टाइगर रिजर्व में हाथी को आया गुस्सा और फिर...
Panna Tiger Reserve, Panna

जहां रेंजर डीआर भगत ने जब  ट्रेकिंग शुरू की तो हाथी को गुस्सा आ गया और गुस्से में हाथी ने रेंजर को पहले जमीन पर पटका और फिर अपने दांतों से हमला करके उसे मार डाला। हाथी के अचानक हमले से महावत समेत आसपास मौजूद वन कर्मी दहशत में आ गए, दिल दहलाने वाली इस घटना से हाथी के पास जाने से वन कर्मी कतरा रहे कतरा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : मास्क लगाने के बाद आपके भी चश्में में जमती है वाष्प तो ये उपाय करें

पन्ना टाइगर रिजर्व में टाइगर ट्रेकिंग के दौरान एक गुस्सैल हाथी ने हिनौता रेंजर बी.आर. भगत हमला कर दिया। हाथी के अचानक हमला करने से महावत समेत आसपास मौजूद वनकर्मी अत्यंत ही दहशत में आ गए। दिल दहला देने वाली इस घटना की भनक लगते ही पार्क के वरिष्ठ अधिकारी तुरंत मौके पर पहुच गए। रेन्जर बी.आर. भगत को अचेत अवस्था में मझगंवा कस्बा में स्थित एनएमडीसी के स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने परीक्षण करने के उपरान्त उन्हें मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें : नई डिवाइस आरटीईएस के जरिए यात्रियों को जल्द मिलेगी ट्रेनों की सटीक जानकारी

पन्ना टाइगर रिजर्व के उपसंचालक जरांडे ईश्वर रामहरि ने इस घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि बाघिन पी-433 के गले में लगाया गया रेडियो कॉलर कुछ ज्यादा ही टाइट होने से उसे समस्या आ रही थी, इसके सुधार हेतु वन आवश्यक कार्रवाई करने के लिए परिक्षेत्राधिकारी हिनौता बी.आर. भगत को निर्देशित किया गया था।

आज हाथियों की मदद से बाघिन पी-433 की ट्रेकिंग के दौरान नर हाथी रामबहादुर अचानक गुस्से में आ गया। इस हाथी ने रेन्जर  भगत को धक्का मारा जिससे वह नीचे जमीन पर गिर गए और फिर उनके सीने में अपने विशाल दाँतों से हमला कर दिया।

यह भी पढ़ें : चित्रकूट पुलिस ने जब्त की गांजा-भांग की बड़ी खेप

पन्ना टाइगर रिजर्व के गंगऊ क्षेत्र में दोपहर लगभग 1 बजे घटित इस अप्रत्याशित घटना के समय मौके पर मौजूद रहे वनकर्मी काफी घबरा गए। घायल रेंजर को तुरंत वहां से हटाकर सुरक्षित स्थान पर लाया गया और पन्ना टाइगर रिजर्व के वरिष्ठ अधिकारियों को इस हादसे की सूचना दी गई।रेंजर बी.आर. भगत को अचेत हालत में आनन-फानन नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र मझगवां ले जाया गया। जहां ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने सघन परीक्षण करने के पश्चात उन्हें मृत घोषित कर दिया।