झांसी मानिकपुर रेलवे ट्रेक के डबल ट्रैक के काम में आई तेजी

मध्य रेल मंडल के अंतर्गत रेलवे झांसी-मानिकपुर के बीच दोहरीकरण का काम कर रहा है। इसके लिए कुलपहाड़ से महोबा और बरुआसागर..

झांसी मानिकपुर रेलवे ट्रेक के डबल ट्रैक के काम में आई तेजी
झांसी मानिकपुर रेलवे ट्रेक के डबल ट्रैक (Double Track of Jhansi Manikpur Railway Trek)

मध्य रेल मंडल के अंतर्गत रेलवे झांसी-मानिकपुर के बीच दोहरीकरण का काम कर रहा है। इसके लिए कुलपहाड़ से महोबा और बरुआसागर से मऊरानीपुर के बीच जमीन के समतलीकरण का काम बड़ी तेजी से किया जा रहा है। इस काम को पूरा करने का लक्ष्‌य मार्च 2023 तक तय किया गया है।

यह भी पढ़ें - पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से विकास को मिलेगी गति, स्थानीय लोगों को मिलेगा रोजगार

जानकारी के अनुसार झांसी-खैरार-मानिकपुर और खैरार-भीमसेन डबल ट्रैक के लिए तीन हजार करोड़ रुपये का बजट स्वीकृत हुआ है। झांसी से मानिकपुर के बीच 310 किलोमीटर और भीमसेन से खैरार के बीच 115 किमी डबल ट्रैक बनाया जाना है। झांसी से मानिकपुर के बीच के काम को छह भागों में बांटा गया है।

काम की शुरुआत बरुआसागर से मऊरानीपुर (42 किमी) और कुलपहाड़ से महोबा (52 किमी) से की गई है। इन दोनों खंडों के बीच बेतवा, केन और धसान नदी पर बड़े पुल बनाए जाएंगे। पुल बनने का काम जल्दी हो सके, इसके लिए इन खंडों को चुना गया है। दोनों खंडों में समतलीकरण के काम के लिए झांसी की दो फर्मों ने ठेका ले रखा है।

यह भी पढ़ें - लखनऊ के रास्ते चली गोरखपुर-वलसाड स्पेशल ट्रेन, यात्रियों को मिलेगी राहत

कोरोना संक्रमण के चलते यह काम धीमा पड़ गया था, लेकिन इस काम ने दोबारा तेजी पकड़ ली है। पीआरओ मनोज कुमार सिंह ने बताया कि कुलपहाड़ से महोबा और बरुआसागर से मऊरानीपुर के बीच दोनों खंडों में सबसे पहले 94 किमी में पटरी डालने का काम टेंडर को मंजूरी मिलते ही जल्दी शुरू हो जाएगा।

मानिकपुर रेलवे स्टेशन (Manikpur Railway Station)

साथ ही सभी डिजाइन स्वीकृति के लिए मुख्यालय प्रयागराज भेज दी गई हैं। उल्लेखनीय है कि अभी झांसी-मानिकपुर सिंगल ट्रैक पर प्रमुख रूप से यूपी संपर्क क्रांति, खजुराहो- कुरुक्षेत्र एक्सप्रेस, महाकौशल एक्सप्रेस, बुंदेलखंड एक्सप्रेस, तुलसी एक्सप्रेस, चंबल एक्सप्रेस, उदयपुर-खजुराहो एक्सप्रेस, झांसी-इलाहाबाद पैसेंजर, झांसी-बांदा पैसेंजर, झांसी-मानिकपुर पैसेंजर ट्रेनें दौड़ती हैं।

यह भी पढ़ें - श्री रामायण यात्रा सीरीज का शुभारम्भ, यह ट्रेन चित्रकूट भी आयेगी

यदि कोरोना के कारण काम पर ब्रेक नहीं लगता तो अभी तक काफी काम पूरा हो जाता। अब जब काम गति पकड़ने लगा है तो इसे दोगुनी तेजी से कराके वर्ष 2023 तक हरहाल में पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

झांसी मानिकपुर रेलवे ट्रेक के डबल ट्रैक (Double Track of Jhansi Manikpur Railway Trek)

हाल ही में उत्तर-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक वीके त्रिपाठी ने खजुराहो से महोबा और महोबा से झाँसी रेलखंड का विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण करके संरक्षा संबंधित पहलुओं को परखते हुए खजुराहो-महोबा व महोबा-झाँसी के मध्य रेलवे लाइन के डबल ट्रेक के निर्माण कार्य में तेी लाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें - छतरपुर में शुरू हुई हेलीकॉप्टर सेवा, 4 हज़ार रुपये में लें सकेंगे हवाई सफर का लुत्फ

झांसी- मानिकपुर रेलवे ट्रेक पर डबल लाइन का काम पूरा हो जाने के बाद ट्रेनों की गति और नई ट्रेनों की आवाजाही भी बढ़ाई जा सकेगी। सिंगल रूट होने के कारण अभी जगह- जगह गाड़ियों को रोका जाता है। डबल लाइन होने पर ट्रेनों की संख्या बढ़ाने में भी दिक्कत नहीं होगी। 

झाँसी रेलवे स्टेशन (Jhansi Railway Station)

जानकारी के अनुसार झांसी-मानिकपुर रेलवे ट्रेक पर बरूआसागर, निवाड़ी, रानीपुर रोड, मऊरानीपुर, रोरा, हरपालपुर, घुटई, कुलपहाड, महोबा, कर्वी, बांदा और मानिकपुर रेलवे स्टेशन पड़ते हैं। अभी यहां सिंगल ट्रेक है, जिस पर विद्युतीकरण का काम पूरा हो चुका है और डबल ट्रेक का काम तेज हो जाने से उम्मीद बंध गई है कि मार्च 2023 तक जरूर लाइन डबल हो जाने से सुविधा मिल जाएगी। जिससे झांसी- मानिकपुर के बीच दोहरी लाइन पर ट्रेनें स्पीड के साथ दौड़ने लगेंगी।

यह भी पढ़ें - 10-13 नवंबर के बीच हो सकती है राजकुमार-पत्रलेखा की शादी, पिंकसिटी में जोरों पर तैयारियां

What's Your Reaction?

like
1
dislike
0
love
2
funny
2
angry
1
sad
1
wow
1