कुएं की सफाई दौरान मिली मूर्ति इन लोगों ने की थी गायब, ऐसे लगी हाथ

कुएं की सफाई दौरान मिली मूर्ति इन लोगों ने की थी गायब, ऐसे लगी हाथ

शहर कोतवाली अंतर्गत एक कुएं की सफाई के दौरान अष्टधातु की मूर्ति मिली थी जिसे सफाई कर रहे मजदूरों ने गायब कर दिया था बाद में पुलिस  की सक्रियता से मूर्ति बरामद हो गई।

कृषि विश्वविद्यालय पुलिस चैकी के नजदीक ग्राम मवई में स्थित अवस्थी कुआं में सफाई का काम चल रहा था। सफाई के दौरान ही  कुएं में एक प्राचीन मूर्ति बरामद होने की खबर फैल गई थी। इस संबंध में बताया जाता है कि कुएं में सफाई के दौरान तीन मजदूरों को मूर्ति मिली थी उन्होंने मूर्ति को गायब कर दिया और आपस में मूर्ति बेचने के बाद पैसा बांटने की बात भी तय कर ली थी लेकिन बाद में आपस में विवाद हो जाने के कारण मामला उजागर हो गया। पुलिस ने मजदूरों को पकड़कर पूछताछ शुरू की तब जाकर कहीं दो दिन बाद मूर्ति बरामद हो सकी।

बरामद मूर्ति श्री कृष्ण जी की है जो इसी गांव के राम जानकी मंदिर की बताई जाती है। बरसों पहले मंदिर से मूर्ति चोरी हो गई थी। आज इसी विश्वविद्यालय पुलिस चैकी के इंचार्ज पंकज कुमार कुशवाहा व कांस्टेबल सुनील कुमार ने मूर्ति बरामद की मूर्ति का दाहिना हाथ कटा है। मजदूरों के मुताबिक मूर्ति किस धातु की है यह जानने के लिए नमूने के तौर पर हाथ काट कर सर्राफा के पास भेजा गया था। बरामदमूर्ति की कीमत करोड़ों रुपए बताई जा रही हैं।