बुन्देलखण्ड में दिखा लाॅकडाउन का असर, सड़कों में पसरा रहा सन्नाटा

प्रदेश में कोरोना महामारी संक्रमण को रोकने के उद्देश्य एक बार फिर तीन दिन का लाॅकडाउन घोषित किया गया है। पहले ही दिन सुबह से बाजार बंद रहा, सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा, मात्र आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रही...

बुन्देलखण्ड में दिखा लाॅकडाउन का असर, सड़कों में  पसरा रहा सन्नाटा
Lockdown, Banda Market

बुन्देलखण्ड में इस समय कोरोना महामारी का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसकी रोकथाम के लिए किए तमाम प्रयास किये जा रहे हैं। इसके बाद भी मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इधर आज प्रदेश सरकार द्वारा लाॅकडाउन घोषित होने से प्रशासन लाॅकडाउन को सफल बनाने में जुटा रहा। बुन्देलखण्ड के लगभग सभी जिलों में लाॅकडाउन असर साफ दिखाई पडा।

यह भी पढ़ें : मुख्तार अंसारी के दो रिश्तेदार व एक करीबी का शस्त्र लाइसेंस निरस्त

बांदा में लाॅकडाउन के पहले दिन सड़कों पर सन्नाटा रहा। महेश्वरी देवी काली देवी एवं बलखंडी नाका पुलिस चैकी के आस पास फालतू घूम रहे लोगों के वाहनों का पुलिस ने चालान कर दिया गया। उधर बाजार में ज्यादातर दुकानें बंद रही। इस बीच बाजार के आसपास पुलिस नजर आई बाकी शहर के अन्य हिस्सों पर पुलिस के जवान नदारद रहे।

उधर झांसी में आईजी सुभाष सिंह बघेल ने दल बल के साथ लाॅकडाउन का औचक निरीक्षण किया। चित्रा चौराहा, सीपरी बाजार, चमनगंज आदि स्थानों पर पुलिस के जवान तैनात रहे। इस दौरान सड़कों से वाहन भी गायब रहे।

यह भी पढ़ें : घर-घर मेडिकल स्क्रीनिंग में संदिग्ध लक्षण वाले लोगों के लिए जाएं कोरोना नमूने : योगी आदित्यनाथ

इसी तरह जनपद चित्रकूट, महोबा, ललितपुर इत्यादि जनपदों में भी लाॅकडाउन का असर दिखाई पड़ा। इधर हमीरपुर में भी बाजार में सन्नाटा पसरा रहा। लाॅकडाउन का पालन करने कराने के लिए पुलिस जगह जगह पर तैनात रही।

इस दौरान चाय, पान की दुकान है बंद रहने से लोगों को असुविधा का सामना करना पड़ा। वहीं दुकानदारों ने पान मसाला गुटखा आदि चोरी छुपे  मनमाने दाम में बेचा। इधर प्रतिदिन की तरह सब्जी बेचने वाले भी गायब रहे। जिससे लोगों को हरी सब्जी खरीदने के लिए दिक्कतें हुई।