शिक्षक भर्ती की काउंसलिंग में सोशल डिस्टेंस व्यवस्था ध्वस्त

शिक्षक भर्ती की काउंसलिंग में सोशल डिस्टेंस व्यवस्था ध्वस्त

जनपद मुख्यालय के राजकीय इंटर कॉलेज में बुधवार को  शिक्षक भर्ती प्रक्रिया के तहत काउंसलिंग शुरू हुई है, पहले ही दिन बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों व अभिभावकों के आने से सोशल डिस्टेंस की व्यवस्था तार-तार हो गई है जो कोविड-19 महामारी के लिए खतरे की घंटी है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 69000 सहायक शिक्षकों की भर्ती की जानी है, जिसके तहत जनपद के राजकीय इंटर कॉलेज में काउंसलिंग होनी है,  यह काउंसलिंग 4 दिन होगी जो 3 से 6 जून तक चलेगी इसमें अभ्यर्थियों के पहले चरण में अभिलेखों का सत्यापन किया जा रहा है सत्यापन के लिए प्रदेश के दूरदराज के जनपदों से अभ्यर्थी और उनके साथ उनके अभिभावक आए हुए हैं यह अभ्यर्थी चार पहिया वाहनों में आए हैं।

जिससे सैकड़ों की तादाद में चार पहिया वाहन राजकीय इंटर कॉलेज मैदान के आसपास खड़े हैं और इनके साथ आए अभिभावक भी सड़क पर मंडरा रहे हैं जिससे सोशल डिस्टेंस की व्यवस्था तार-तार हो गई है। प्रवेश द्वार में ही बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे है जिससे 2 गज की दूरी का फासला नहीं हो पा रहा है।

यहां मौजूद प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी ने बताया कि इस कॉलेज में 1000 अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग होनी है इनके मार्गदर्शन के लिए हमने यहां स्टॉल लगाया है जिसमें सैनिटाइजर व मास्क की व्यवस्था की गई है। साथ ही अभ्यर्थियों को पेठा देकर पानी की पिलाया जा रहा है।

इस संबंध में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिश्चंद्र नाच ने बताया कि अभ्यर्थियों को कालेज परिसर में आते ही सैनिटाइज कराया जा रहा है। जिनके पास मास्क नहीं है उन्हें मास्क दिए जा रहे हैं और महिला और पुरुषों के लिए अलग-अलग काउंटर बनाए गए हैं।जब उनसे पूछा गया कि सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो रहा है, इस पर उन्होंने कहा कि 15:15 मिनट में माइक से अनाउंस किया जा रहा है कि सोशल डिस्टेंस का पालन करें इसके बावजूद बाहर बड़ी संख्या में अभिभावकों के आने से व्यवस्था गड़बड़ाई  है इसके लिए पुलिसकर्मियों को कहा गया है कि वह लोगों को सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए कार्रवाई करें।