बांदा के लोकप्रिय राज्यसभा सांसद विशंभर निषाद, संसद रत्न अवॉर्ड 2020 के लिए चुने गए

बांदा के लोकप्रिय राज्यसभा सांसद विशंभर निषाद, संसद रत्न अवॉर्ड 2020 के लिए चुने गए

जनपद बांदा के लोकप्रिय राजसभा सांसद विशंभर प्रसाद निषाद को जनहित के मुद्दे उठाने और अच्छे कार्य के लिए इस वर्ष का संसद रत्न अवॉर्ड के लिए चुना गया है।उनका चयन राजसभा सभा में संसदीय कार्य मंत्री की अध्यक्षता में गठित जूरी ने किया। इनके अलावा छत्तीसगढ़ की छाया वर्मा को भी चुना गया है ।

विशंभर प्रसाद जमीन से जुड़े संघर्षशील कार्यकर्ता के रूप में जाने जाते हैं। इधर वह पिछले दो कार्यकाल से राजसभा के लिए निर्वाचित हुए, सदन में उन्होंने अनेक जनहित के मुद्दे उठाए। उन्होंने बुंदेलखंड से जुड़े मामले भी सदन में उठाए और कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए भी इसी साल  सदन में मुद्दा उठाया था।

उनका कहना है कि गरीब तबके का व्यक्ति अगर कैंसर जैसी घातक बीमारी की चपेट में आ जाता है तो उसका घर द्वार सब बिक जाता है लेकिन वह ठीक नहीं हो पाता है और बाद में उसकी मौत हो जाती है इसलिए इस जानलेवा बीमारी के खात्मा के लिए सरकार को कदम उठाना चाहिए।

यह भी पढ़ें : स्वास्थ्य मंत्री ने मेडिकल काॅलेज का किया निरीक्षण, सीएमओ को लगाई फटकार

जनपद बांदा की तिंदवारी विधानसभा से चार बार विधायक और प्रदेश मंत्रिमंडल में तीन बार मंत्री रह चुके विशंभर प्रसाद निषाद 11 वीं लोकसभा के लिए 1996 में तिंदवारी फतेहपुर लोकसभा से चुने गए थे।इसके बाद 2014 में उन्हें समाजवादी पार्टी ने राज्यसभा के लिए भेजा।

2 साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद 2016 में उन्हें उने 2022 तक के लिए राज्यसभा में सपा ने भेजा,तब से वे लगातार सदन में जनहित के मुद्दे उठाते हैं। वर्तमान में वह समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव भी हैं, जो संगठन के लिए भी पूरी निष्ठा के साथ काम करते हैं। इधर कोरोना काल मे भी श्री निषाद और उनकी पत्नी श्रीमती शकुंतला निषाद ने प्रवासी मजदूरों को खाद्यान्न वितरित किया इसके लिए उनकी जरूरतमंदों ने सराहना की है।