दिल्ली के पप्पन सिंह ने फ्लाइट से भेजे मजदूर

दिल्ली के पप्पन सिंह ने फ्लाइट से भेजे मजदूर

@सौरभ द्विवेदी

उनके यहाँ बिहार राज्य से आए दस मज़दूर काम करते हैं...

इनमें से कई उनके यहाँ बरसों से काम कर रहे हैं। 

पप्पन सिंह को मशरूम की खेती से करीब एक लाख रुपए प्रति माह की आमदनी होती है। लॉकडाउन के बाद सारा काम ठप्प पड़ गया... लेकिन पप्पन सिंह ने अपने यहाँ काम करने वाले मज़दूरों को काम से निकाला नहीं। वे पिछले दो महीनों से उन सबके रहने और खाने का प्रबंध कर रहे हैं।

अब जब यातायात के साधन खुल गए हैं तो पप्पन सिंह ने मज़दूरों को वापस घर भेजने के लिए श्रमिक स्पेशल में सबकी टिकट करा दी। लेकिन ट्रेनों की हालत और बढ़ी हुई गर्मी को देखते हुए, पप्पन सिंह ने ट्रेन टिकट कैंसल किए और 70,000 रुपए खर्च करके सभी दस मज़दूरों के लिए प्लेन के टिकट बुक कराए।

यह भी पढ़े : यूपी सरकार ने पेश किये अब तक के आंकड़े

आज शाम 6:00 बजे ये सभी मज़दूर दिल्ली से पटना के लिए हवाई जहाज से रवाना होंगे। इन मज़दूरों ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वे हवाई जहाज में बैठेंगे... पटना एयरपोर्ट पर एक बस का इंतज़ाम भी पप्पन सिंह ने किया है। यह बस मज़दूरों को पटना से आगे उनके गाँवों तक उन्हें छोड़कर आएगी। पप्पन सिंह ने अपनी एक महीने की कमाई अपने साथी कामगरों को उनके घर सुरक्षित पहुँचाने में खर्च कर दी...

पप्पन सिंह ने वही किया जो किया जाना चाहिए... यह बात सुनने में आसान लगती है लेकिन समाज का एक बड़ा तबका ऐसा है जो ऐसा कुछ नहीं कर रहा है जो किया जाना चाहिए...

ऐसे में पप्पन सिंह जैसे उदाहरण रेगिस्तान में हरियाली की तरह लगते हैं...

यह भी पढ़े : यूपी रोडवेज ने जारी की 1 जून से बस संचालन की गाइडलाइन