कानपुर का बिकरु कांड : यूपी एसटीएफ ने हमीरपुर में मुठभेड़ कर अमर दुबे को किया ढेर

उत्तर प्रदेश के जनपद कानपुर में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद से फरार चल रहे विकास दुबे के करीबी साथी अमर दुबे को एसटीएफ की टीम ने हमीरपुर जिले में मार गिराया है।

कानपुर का बिकरु कांड : यूपी एसटीएफ ने हमीरपुर में मुठभेड़ कर अमर दुबे को किया ढेर
Kanpur Bikru Scandel

(हि.स.)

  • मोस्ट वांटेड विकास दुबे का बेहद करीबी था मारा गया अमर दुबे, गैंग में अच्छी तरह से निभाता था अपराध की वारदातें
  • कानपुर में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों को मारने की जघन्य अपराध में था शामिल अमर दुबे

इस सम्बंध में यूपी के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बुधवार को बताया कि आज सुबह हमीरपुर के मौदहा थानाक्षेत्र में एसटीएफ एवं स्थानीय पुलिस को कानपुर कांड के आरोपी मोस्ट वांटेड विकास दुबे के करीबी साथी अमर दुबे की लोकेशन मिली। जिस पर उसे घेर लिया गया। घेराबंदी देख वह भगने लगा।

इस बीच उसने एसटीएफ व पुलिस टीम पर फायरिंग भी की। जिसके बाद उसे मुठभेड़ में मार गिराया गया। जानकारी के मुताबिक, मारा गया अमर दुबे कुख्यात विकास दुबे गैंग का शातिर अपराधी है और कानपुर के बिकरु गांव में सीओ देवेंद्र मिश्रा, एसओ महेश यादव सहित आठ पुलिस कर्मियों की नृशंस हत्या की वारदात में शामिल था और घटना के बाद से फरार हो गया था।

यह भी पढ़ें : पत्नी के मोबाइल से सीसीटीवी कनेक्ट रहता था

पुलिस ने उस पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर सरगर्मी से तलाश में जुटी थी। मौके पर पुलिस साक्ष्यों को जुटा कर उसके अन्य साथियों का सुराग लगा रही है।

मुठभेड़ में इंस्पेक्टर मौदहा मनोज शुक्ला और एक एस टी एफ सिपाही को भी लगी गोली हुए घायल। इलाज  के लिए भेजा गया जिला अस्पताल, जिला अस्पताल में सीओ समेत भारी पुलिस बल तैनात।

यह भी पढ़ें : एटा एसएसपी ने जिलेभर में चिपकवाए कुख्यात विकास दुबे के पोस्टर