पुलवामा विस्फोट की जिम्मेदार कौन सी कंपनी, जिसे बैन करने की उठी मांग

यह मांग राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता ने पीएम इंडिया के पोर्टल के माध्यम से की है..

पुलवामा विस्फोट की जिम्मेदार कौन सी कंपनी, जिसे बैन करने की उठी मांग

बांदा,

जम्मू कश्मीर के पुलवामा विस्फोट के दौरान देश के 40 सैनिक शहीद हो गए थे। शहीद सैनिकों की शहादत का दर्द देशवासी आज तक नहीं भूले हैं। इनकी शहादत के गुनहगार आतंकी  मारे गए पकड़े जा चुके हैं। इस हमले में ऑनलाइन विस्फोटक सामग्री सप्लाई करने वाली अमेजन कंपनी को बैन किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें - बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे : चित्रकूट से इटावा के निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ़्तार

यह मांग राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता ने पीएम इंडिया के पोर्टल के माध्यम से की है। उन्होंने बताया कि इस विस्फोट के लिए ऑनलाइन व्यापार करने वाली अमेजन कंपनी भी जिम्मेदार है ,आज भी इसकी वेबसाइट में जाकर विस्फोटक सामग्री बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले पदार्थों केमिकल व एलमुनियम पाउडर सहित विस्फोटक बनाने में उपयोग होने वाली सामग्री को कोई भी आसानी से खरीद कर पुलवामा जैसी घटना को दोबारा किसी और जगह पर अंजाम दे सकता है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए की जांच में पुष्टि हुई है कि 14 फरवरी 2019 को पुलवामा के आतंकी हमले में उपयोग किए गए विस्फोटक सामग्री देश की ऑनलाइन कंपनी अमेजन के माध्यम से आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त लोगों के पास पहुंची थी।

यह भी पढ़ें - धर्म नगरी चित्रकूट से शीघ्र शुरू होगी हवाई यात्रा, रूट हुआ तय

राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि ऑनलाइन कंपनी अमेजन पर हिंदुस्तान के व्यापार करने पर बैन लगाया जाए साथ ही ऑनलाइन कंपनी अमेजन पर देशद्रोह का मुकदमा पंजीकृत किया जाए और ई-कॉमर्स कंपनियां संपूर्ण देश ई व्यापार में बैन होनी चाहिए ताकि इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति पूरे देश में न हो सके।

यह भी पढ़ें - नीट-जेईई परीक्षा : अखिलेश बोले- जान के बदले परीक्षा नहीं चलेगी, लिखा खुला पत्र

प्रधानमंत्री के पोर्टल में भेजे गए पत्र में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता के अलावा पप्पू शिवहरे प्रदेश कोषाध्यक्ष सुरेश कुमार, रवि तिवारी ,संजय गुप्ता ,मंडल अध्यक्ष अशोक ओमर, रंजीत सिंह बबलू, इंद्रप्रकाश,व मुकेश गुप्ता इत्यादि के हस्ताक्षर हैं।व्यापारियों ने अमेजन कंपनी का पुतला फूंक कर विरोध व्यक्त किया।