दो रूट पर दौड़ेगी मेट्रो, गौतम बुद्ध हॉस्‍टल के पास बनेगा सब सर्विस स्टेशन

गोरखपुर में लाइट मेट्रो को लेकर सक्रियता बढ़ गयी है। चिह्नित दो रूट्स पर जल्दी ही कार्य शुरू होने के संकेत मिलने लगे हैं। प्रमुख सचिव आवास विकास और गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) के अधिकारियों के बीच हुई चर्चा के बाद रिपोर्ट भी भेजी जा चुकी है।

दो रूट पर दौड़ेगी मेट्रो, गौतम बुद्ध हॉस्‍टल के पास बनेगा सब सर्विस स्टेशन
Gorakhpur Metro

गोरखपुर, (हि.स.)

डीडीयू के गौतम बुद्ध हॉस्टल के पास सब स्टेशन बनाने को जमीन चिह्नित कर लिया गया है। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

जानकारी के मुताबिक जीडीए ने मेट्रो निर्माण के लिए जरूरी सर्विस सब स्टेशन को भी चिह्नित कर लिया है। यह जमीन गोरखपुर विश्वविद्यालय (डीडीयू) के हॉस्टल के पास जमीन बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार ने मेट्रो को लेकर जीडीए के अधिकारियों से भी बात की है। सर्विस सब स्टेशन के लिए हुई चर्चा के दौरान ही उन्हें चिह्नित जमीन की जानकारी भी दी गई। जीडीए के अफसरों के मुताबिक डीडीयू गोरखपुर विश्वविद्यालय के गौतम बुद्ध छात्रावास के पीछे करीब पांच हजार वर्ग मीटर जमीन को सर्विस सब स्टेशन बनाने के लिए रिपोर्ट को राइट्स (रेल इंडिया टेक्निकल एंड इकोनॉमिक सर्विस) को भेजी गई है।

कैबिनेट को भेज दी गई है रिपोर्ट

सूत्रों के मुताबिक मेट्रो की डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) का अनुमोदन कर राइट्स और लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन की टीम ने प्रदेश कैबिनेट को भेज दिया है। कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद काम शुरू हो सकेगा। चिन्हित जमीन पर ही निर्माण से जुड़ी सामग्री रखी जाएगी।

यह भी पढ़ें : पत्नी के मोबाइल से सीसीटीवी कनेक्ट रहता था

तीन बोगियों वाली लाइट मेट्रो पर 4589 करोड़ होगा खर्च

शहर में 4,589 करोड़ रुपये से तीन बोगियों वाली लाइट मेट्रो चलाने का प्रस्ताव है। प्रदेश सरकार के बजट में गोरखपुर सहित कई शहरों में मेट्रो के लिए 200 करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया गया है।

दो रूट्स पर दौड़ेगी मेट्रो

15.14 किमी लंबा पहला रूट श्याम नगर (बरगदवा के पास) से मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विवि तक होगा। इस पर 14 स्टेशन होंगे। दूसरा रूट गुलरिहा से शुरू होकर बीआरडी मेडिकल कॉलेज, असुरन चौक, धर्मशाला, गोलघर, कचहरी चौराहा होते हुए नौसढ़ तक जाएगा। 12.70 किमी लंबे इस रूट पर 12 स्टेशन होंगे।

बोले प्रमुख सचिव

अधिकारियों के साथ हुई बैठके के बाद प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन दीपक कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि डीपीआर राइट्स व लखनऊ मेट्रो रेल कारपोरेशन के अधिकारियों ने देख लिया है। इसे कैबिनेट के पास भेजा गया है। लॉकडाउन समाप्त हो चुका है, उम्मीद है कि कैबिनेट से इस बावत जल्दी ही मंजूरी मिल जाएगी।

बोला जीडीए

इस सम्बंध में जीडीए के सचिव राम सिंह गौतम का कहना है कि गोरखपुर मेट्रो को लेकर प्रक्रिया एक बार फिर तेज हो गई है। मेट्रो के सर्विस सब स्टेशन के लिए डीडीयू के हॉस्टल के पास जमीन चिन्हित कर रिपोर्ट भेज दी गई है। शासन से निर्देश मिलने के बाद आगे की कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

यह भी पढ़ें : असलहा फैक्ट्री पर छापा मारने गई पुलिस व बदमाशों में मुठभेड़