अब चित्रकूट मंडल में साइबर अपराधियों की खैर नहीं

मंडल स्तर पर साइबर अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस लाइन परिसर में साइबरक्राइम थाना का शुभारंभ आज चित्रकूट धाम परीक्षेत्र बांदा के पुलिस महानिरीक्षक के सत्यनारायण ने फीता काटकर किया..

अब चित्रकूट मंडल में साइबर अपराधियों की खैर नहीं
साइबर क्राइम थाना, चित्रकूट धाम मंडल, बांदा

  • मंडल स्तर पर साइबर क्राइम थाने का शुभारंभ

मंडल स्तर पर साइबर अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस लाइन परिसर में साइबरक्राइम थाना का शुभारंभ आज चित्रकूट धाम परीक्षेत्र बांदा के पुलिस महानिरीक्षक के सत्यनारायण ने फीता काटकर किया। पहले ही दिन एक अभियोग पंजीकृत किया गया।  जिसमें जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए गए।

यह भी पढ़ें : मुम्बई और दिल्ली जाने वाले यात्रियों के लिए जल्द चलेंगी अतिरिक्त ट्रेनें

चित्रकूट धाम मंडल के जनपद बांदा चित्रकूट, महोबा तथा हमीरपुर में अब तक साइबर सेल संचालित हैं जिनमें समय-समय पर साइबर अपराधों की रोकथाम के लिए काफी प्रयास किए जाते हैं किंतु साइबर अपराधों पर अभियोग पंजीकृत करना विवेचनात्मक कार्यवाही करना तथा साइबर अपराध करने वाले अपराधियों तक पहुंचने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा था। इसी आवश्यकता को देखते हुए शासन द्वारा निर्गत दिशा निर्देशों के क्रम में पुलिस लाइन बांदा में मंडल साइबर क्राइम थाने का शुभारंभ किया गया।

Cyber Crime Office Banda Police

थाने का नोडल अधिकारी क्षेत्राधिकारी नगर आलोक मिश्र थाना प्रभारी निरीक्षक मोहम्मद फहीम अख्तर, उपनिरीक्षक जितेंद्र यादव, कंप्यूटर ऑपरेटर सहित दो महिला आरक्षी तथा तीन पुरुष आरक्षी को थाने में नियुक्त किया गया है।

इस बारे में  पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा ने बताया कि मंडल के जनपदों में एक लाख से ऊपर होने वाली ऑनलाइन ठगी पर पीड़ित की तहरीर के अनुसार अभियोग पंजीकृत किया जाएगा तथा उसके बाद विवेचनात्मक कार्यवाही की जाएगी,एक लाख से नीचे होने वाले साइबर अपराधों पर जनपद स्तर के साइबर सेल कार्रवाई करते हैं। अब तक होने वाले अपराधों में जनपद बांदा में संचालित साइबर सेल द्वारा ऐसे 6 प्रकरणों में  पीड़ितों को उनका पैसा वापस करा कर पुलिस द्वारा सराहनीय कार्य किया गया है। इधर आज थाने के शुभारंभ के दौरान ही घनश्याम यादव पुत्र प्रताप यादव निवासी ग्राम बेंदा थाना तिंदवारी जनपद बांदा द्वारा पहला अभियोग पंजीकृत कराया गया।

यह भी पढ़ें : एक बच्चे समेत बांदा में 17 और संक्रमित

उसने बताया कि फेसबुक पर महेंद्रा का विज्ञापन देखा था विज्ञापन में अंकित मोबाइल नंबर से संपर्क किया गया तो बोलोरो कार दो लाख रुपए में खरीदने की बात तय हुई थी।बाद में विज्ञापन डालने वाले व्यक्ति ने कार बेचने से मना कर दिया। ठगी का अहसास होने पर पीड़ित द्वारा तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया गया।साइबर अपराध थाने का उद्घाटन करने के बाद पुलिस महानिरीक्षक चित्रकूट धाम क्षेत्र बांदा के.सत्यनारायण द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय का औचक निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के दौरान हैप्पी टू हेल्प ,मीडिया सेल आदि शाखाओं का बारीकी से जायजा लिया गया। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ शंकर मीणा, अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र सिंह चौहान, क्षेत्राधिकारी नगर आलोक मिश्रा इत्यादि मौजूद रहे।

What's Your Reaction?

like
0
dislike
0
love
1
funny
0
angry
0
sad
0
wow
0