Banda Corona Update : नौ डॉक्टर समेत 20 स्वास्थ्य कर्मी कोरोना की चपेट में 

जनपद बांदा में कोरोना महामारी से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने भले ही डॉक्टर व स्वास्थ्य कर्मियों के सुरक्षा की दृष्टि से तमाम इंतजाम करने के दावे किए थे, इसके बाद भी राजकीय मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मी ही कोरोना की चपेट में आ रहे हैं।

Banda Corona Update : नौ डॉक्टर समेत 20 स्वास्थ्य कर्मी कोरोना की चपेट में 

अब तक राजकीय मेडिकल कॉलेज में 9 डॉक्टर और 9 स्वास्थ्य कर्मी तथा जिला अस्पताल में 2 स्टाफ नर्सों को संक्रमित पाया गया है, जिससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप सा मच गया है। जनपद मुख्यालय में राजकीय मेडिकल कॉलेज को कोविड-19 अस्पताल बनाया गया है। जहां बांदा के अलावा चित्रकूट, हमीरपुर और महोबा के संक्रमित मरीजों को आईसोलोशन वार्ड में रखकर इलाज किया जाता है। इधर तमाम सतर्कता और सुरक्षा के इंतजाम के बाद भी यहां के डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी संक्रमण के घेरे में आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें : बुन्देलखण्ड में कोरोना ने मचाई तबाही, 48 लोगों ने गंवाई जान

पिछले हफ्ते मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य संक्रमित हो हुए थे, उसके बाद उनकी पत्नी भी चपेट में आ गई ।अब उनका इलाज पीजीआई लखनऊ में हो रहा है। उनके स्थान पर प्रधानाचार्य का काम देखने वाले एक अन्य चिकित्सक भी 3 दिन पहले संक्रमित पाए गए हैं। इसी तरह मेडिकल कॉलेज में फार्माकोलाजी विभाग के डॉक्टर उनकी पत्नी तथा दो पुत्रियों की जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इस तरह एक-एक करके यहां 9 डॉक्टर और इतने ही स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना संक्रमित पाया गया।

इधर जिला चिकित्सालय में भी दो स्टाफ नर्सों को संक्रमित पाए जाने से यहां ओपीडी को बंद कर दिया गया है। जिससे मरीजों को परेशानी हो रही है। स्वास्थ्य कर्मी व डॉक्टरों के संक्रमित हो जाने के कारण आइसोलेशन वार्ड में मरीजों का इलाज कर रहे हैं डॉक्टर  व स्टाफ की कमी हो सकती है।

यह भी पढ़ें : योगी ने ​मुख्यमंत्री शिवराज से की फोन पर बात, विकास दुबे को सौंपेगी एमपी पुलिस

जिले में वैसे तो कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अन्य जनपदों की तुलना में कम है लेकिन कोविड-19 अस्पताल होने के कारण यहां चारों जनपदों के मरीज भर्ती हैं जिससे स्वास्थ्य कर्मी जल्दी चपेट में आ रहे हैं। जनपद में इस समय संक्रमित मरीजों की संख्या 66 पहुंच गई है। इनमें 53 मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि 17 मरीज अभी भी संक्रमित है।इधर 1 हफ्ते के अंदर शहर में कई संक्रमित मरीज पाए जाने से आधा दर्जन मोहल्ले हॉटस्पॉट बना दिए गए हैं। इनमें नजरबाग बाजार,गूलरनाका, इंदिरा नगर, सूतर खाना, पीला चर्च, अलीगंज शामिल है।इन इलाकों में वेरी कटिंग कर लोगों के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है।जिससे लोगों को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। वही जिला अस्पताल में टूनेट मशीन आ जाने से जांच में तेजी आई है। अब तक इस मशीन से 12 मरीज संक्रमित पाए गए है।इस बात की पुष्टि सीएमएस डॉ संपूर्णानंद मिश्र ने की है।