गुरूग्राम में रायन इंटरनेशनल के प्रद्युम्न हत्याकाण्ड में सीबी"/>

प्रद्युम्न का हत्यारा उसी स्कूल का छात्र निकला। आरापी कंडक्टर के खिलाफ सबूत नही मिला।

गुरूग्राम में रायन इंटरनेशनल के प्रद्युम्न हत्याकाण्ड में सीबीआई के खुलासे से नया मोड़ आ गया हैं। सीबीआई ने इसी स्कूल में पढ़ने वाले लगभग 16 वर्षीय छात्र को आरोपी बताया है उसे हिरासत में भी ले लिया गया है।
    सीबीआई का दावा है कि इसी स्कूल में कक्षा 11 वीं में पढने वाले छात्र ने ही परीक्षा रद्द कराने के लिए प्रद्युम्न की हत्या की है। हत्या पूर्व नियोजित नहीं थी। छात्र कुछ ऐसा करने की फिराक में था जिससे  परीक्षा स्थगित हो जाये। धरना वाले दिन प्रद्युम्न जैसे ही टायलेट के पास दिखाई पड़ा वैसे ही छात्र ने उसकी चाकू मारकर हत्या कर दी। सीबीआई सूत्रों की माने तो इस बात की जानकारी छात्र के दो साथियों ने भी दी थी। इसी के बाद छात्र से गहन पूँछताछ की गई। पूँछताछ में छात्र ने इकबाल कर लिया कि उसने ही प्रद्युम्न की हत्या की है।
    सीबीआई ने यह भी बताया कि इस हत्या काण्ड में पूर्व में पकड़े गए कंडक्टर अशोक के खिलाफ कोई सबुत नही मिला और यौन शोषण का मामला भी नही पाया गया। वही आरोपी छात्र के पिता ने बताया कि मेरे बच्चे को साजिशन फंसाया जा रहा है।
    बताते चले कि 8 सितम्बर को गुरूग्राम के भोंडसी में स्थित रायन इंटरनेशनल स्कूल में 7 वर्षीय प्रद्युम्न की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद हत्या का दोषी मानते हुए पुलिस ने बस कंडक्टर को न सिर्फ गिरफ्तार किया बल्कि कंडक्टर ने हत्या करने की बात भी स्वीकार की थी। अब जब जांच सीबीआई को सौंपी गई तो सीबीआई ने छात्र को आरोपी माना है।



चर्चित खबरें