डोकलाम को लेकर एक बार फिर चीन और भारत के बीच तनातनी बढ़ "/>

चीन सैनिको को तैनात कर फिर गुर्राया

डोकलाम को लेकर एक बार फिर चीन और भारत के बीच तनातनी बढ़ रही है। क्योंकि चीनी विदेश मंत्रालय ने फिर दोहराया है कि डोकलाम हमारा हिस्सा है इसलिए वहां अगर हमारी सैनिक तैनात किये जाते है तो इसमें विवाद नही होना चाहिये।

सूत्रो की माने तो चीन की पीपुल्स लिवेरशन आर्मी (पीएलए) ने थातुंग में आग्रिम चैकी पर सैनिकों की संख्या में इजाफा कर दिया है। भारत और चीन की सेनाओं की बीच डोकलाम में 165 जून 2017 से 73 दिन तक गतिरोध की स्थिति बनी रही। क्योंकि चीन ने डोकलाम में बड़ी संख्या में सैनिकों को तैनात कर दिया था। अब एक बार फिर से उसी जगह में सैनिकों की संख्या बढ़ाना इस बात के संकेत है कि चीन का इरादा ठीक नही हैं यादि चीन डोकलाम में फिर सैनिक बढ़ाता है तो निश्चित है कि दोनों देशों केी बीच तनाव और बढ़ेगा।

चीन सैनिकों की संख्या बढ़ा रहा है। इस बात के संकेत वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी.एस घनोआ ने भी दिया है। साथ ही उनका यह भी कहना है महमारे सैनिक भी चुंबी घाटी में डटे है। हालांकि वहां उनका अभ्यास पूरा हो चुका है। बताते चले कि भारत की सेना ने चीन की सेना के विवादित क्षेत्र में एक सड़क निर्माण पर रोक लगा दी थी।



चर्चित खबरें