मध्यप्रदेश में कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने है जिसे दे"/>

सागर मेडिकल कालेज और लाखा बंजारा झील का जल्द होगा कायाकल्प: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मध्यप्रदेश में कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने है जिसे देखते हुए भाजपा अपनी तैयारियों में कमी नही करना चाहती । इसी क्रम ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कल धर्मनगरी चित्रकूट पहुंचे । उन्होंने चित्रकूट को पर्यटन के लिहाज से वैश्चिक स्तर से जोड़ने का संकल्प दोहराया। आपको बता दें कि, चित्रकूट के उद्यमिता पीठ में दो दिवसीय किसान सम्मेलन में आये सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सर्वप्रथम पत्नी साधना सिंह और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ कामदगिरी पर्वत की पांच किलोमीटर की परिक्रमा लगाई। इसके बाद स्फटिक सिला ,गुप्त गोदावरी ,में किया पूजन और माँ मंदाकनी में  गंगा आरती,यहाँ के राजा भगवान मत्यगजेंद्र नाथ का किया पूजन इस मौके पर मप्र के कई मंत्री और UP व MP बीजेपी कार्यकर्त्ता साथ में रहे मौजूद।

आखिर मध्य-प्रदेश का चुनाव नजदीक आते ही किसानो को खुश करने के लिए शिवराज सिंह चौहान ने किसानो से वादा करना शुरू कर दिया।  मध्य-प्रदेश का किसान सरकार की नीतियों से नाखुश है और इस बार किसानो की आत्महत्या , पुलिस की गोली का शिकार किसान और सड़को पे आंदोलन से शिवराज को अपनी  चित्रकूट की सीट जाते व अग्रिम एक साल बाद के  विधान सभा चुनाव में सरकार नैया डूबती दिखी तो उनको  याद आया राम की शरणा स्थली चित्रकूट क्योकि इसी धरती के लिए  तुलसीदास ने कहा है की "चित्रकूट में रम रहे रहिमन अवध नरेश। जा पर विपदा पड़त है सो आवत यही देश।" यही वजह है कि कल शिवराज को याद आया चित्रकूटधाम और अपनी पत्नी व परिवार के साथ अपनी अर्जी लगाने आ पहुचे चित्रकूट ।

किसान मोर्चा के दो दिवसीय सम्मेलन में किसानो की आय दो गुना करने का प्रस्ताव हुआ पास  और बताया गया कि 2022 तक इस काम को पूरा किया जायेगा।  इस सम्मेलन में बीजेपी के किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह ने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा की जो खेती किसानी नहीं जानता वो किसान हित की बात नहीं करे अगर राहुल गांधी फसलों को पहचान ले तो मै उन्हें फूलो की माला पहनाऊंगा।  

दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर  शिवराज सिंह ने एक चौपाई के माध्यम से जवाब दिया और कहा कि, "जाको प्रभु दारुण दुःख दीन्हा ,ताकि मति पहले हर लीन्हा"। किसान मोर्चा के सदस्यों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश पर पूरे देश मे हो हल्ला हो रहा। कांग्रेसी हो हल्ला कर रहे मगर उन्हें इस सिफारिश की जानकारी ही नही मध्यप्रदेश सरकार आयोग की सिफारिश से दो गुना काम कर चुकी और कर रही । इतना ही नही उन्होंने संकल्प दोहराया कि इस जन्म में उनके आजीविका का साधन कृषि है और रहेगा। शिवराज ,बेटा फूल बेच रहा और अब डेरी भी खोलेगा। उन्होंने कार्यकर्ताओ से आह्वान करते हुए कहा कि गांव गांव में सब को समेट लो कोई दूसरी पार्टी न बचे।

कल प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सागर (बुन्देलखण्ड) के मेडिकल कॉलेज और लाखा बंजारा झील की दयनीय स्थिति पर मैंने एक झन्नाटेदार सवाल पूछा जिसका उनके पास कोई ठोस उत्तर नही था। उन्होंने कहा जल्द ही मेडिकल कालेज की अव्यवस्थाएं दूर की जायेंगी और लाखा बंजारा झील को साफ़ एवं स्वच्छ किया जायेगा। सीएम साहब कहें कुछ भी लेकिन स्वास्थ्य की स्थिति काफी ख़राब है। अब सवाल उठा है तो कार्यवाही भी होगी और कार्यवाही के नाम पर लीपापोती लेकिन हमारी कलम बन्द और आवाज चुप नही होगी। चित्रकूट पर्यटन के विकास के लिए उन्होंने कई घोषणाएं की ।

चित्रकूट के लिए घोषणाएं -
चित्रकूट राम की तपो स्थली बाबा विश्वनाथ की तर्ज पर करेंगे विकास। मन्दाकिनी को करेंगे संरक्षित, परिक्रमा मार्ग में मिटटी आने से रोकने के लिए कामदगिरि में कुछ जगह बाउंड्रीवाल का निर्माण व पौधे लगाएंगे,सम्पूर्ण परिक्रमा मार्ग में सेड लगेगा जिसमे लिखी जायेगी रामायण की चौपाई। गुप्तगोदवारी का होगा विकास सुव्यवस्थित पार्किंग की व्यवस्था ,अनुसुइया आश्रम ,हनुमानधारा का विकास ,वन देवी में ठहरने की व्यवस्था ,लाइट एंड साउंड शो कार्यक्रम,व रामायणम् का कार्य जल्द होगा शुरू। कामदगिरि क्षेत्र में श्मसान घाट का निर्माण व् चित्रकूट स्वस्थ्य केंद्र का होगा उन्नयन। चित्रकूट विकास प्राधिकरण के गठन  का होगा गठन ।  प्रज्ञा चक्षु तुलसी स्कूल को शासकीय  किया जाएगा ।

जानकीकुण्ड घाट में चेंजिंग रूम सहित कई विकास कार्य करवाने की बात कह गये सीएम तो वही मन्दाकिनी में अवैध खनन,सरभंग की पहाड़ी पर खनन,मोकम गढ़ की पहाड़ी में खनन पर बोले सीएम सरकार अवैध खनन पर है सख्त,नही होगा धर्मनगरी में अवैध खनन और वनस्पतियो का दोहन कामद गिरी के कार्यवाहक महंत मदन गोपाल दास ने दिया था अवैध खनन पर लगाम लगाने हेतु सीएम को ज्ञापन।



चर्चित खबरें