< हे भगवान ! यूपी के सबसे ताकतवर नौकरशाह के घर की इत्ती दुर्दशा  Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News विवेक चौरसिया, महोबा 

हे भगवान ! यूपी के सबसे ताकतवर नौकरशाह के घर की इत्ती दुर्दशा 

विवेक चौरसिया, महोबा 

महोबा नगर पालिका चला रही है अस्वच्छ भारत अभियान 

दो दिन पहले कमिश्नर के आने पर हुई थी सफाई 

सूबे का सबसे पिछड़ा जिला महोबा उस समय चर्चा में एकदम आ गया जब शहर के मलकपुरा मोहल्ला के रहने वाले राजेंद्र कुमार तिवारी उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव की कुर्सी पर आसीन हुए। न केवल मोहल्ला बल्कि पूरा जिला इस बात को लेकर गौरवान्वित हो उठा कि अब उनके जिले को शासन की योजनाओं में विशेष वरीयता मिलेगी। लेकिन जिले व मंडल के नौकरशाहों के पास अपने बा़ंस के घर जाकर उनके पिता व माता के चरण स्पर्श करने का समय तो है, पर वे यह जानने की जरूरत नहीं समझते कि किस परिवेश में रहते हैं और कितना प्रदूषण झेल रहे हैं। गंभीर बात यह है कि भले ही आरके तिवारी अभी सूबे में मुख्य सचिव बने हों, पर परिवार का प्रोफाइल ऐसा है कि इसे हम जिले क्या पूरे बुंदेलखंड की धरोहर कह सकते हैं।

कमिश्नर के दौरे के दो दिन बाद जब बुन्देलखण्ड न्यूज के संवाददाता विवेक चौरसिया ने मोहल्ले में सफाई व्यवस्था का हाल जाना तो कुछ ऐसा दिखा कि उस पर विश्वास करना मुश्किल था। प्रधानमंत्री कार्यालय में सचिव, उत्तर प्रदेश व झारखंड के मुख्य सचिव के घर के सामने के रास्ते पर भारी मात्रा में गंदगी रास्ते पर बहती व डंप मिली। गंभीर बात यह है कि जब नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी से कांटेक्ट करने का प्रयास किया गया तो कई बार रिंग करने के बाद उन्होंने बड़े अनमने ढंग से कहा कि चलो दिखवा लेते हैं। इससे भी ज्यादा गंभीर बात यह है कि दो दिन पहले आए कमिश्नर के साथ नगर पालिका परिषद की चेयरमैन के पति भी उनकी अगवानी मोहल्ले में करते दिखे और यह स्थान उनके घर के नजदीक है, लेकिन सफाई के लिए चिंता करना वह भी जरूरी नहीं समझते।

अधिशाषी अधिकारी ने कहा कि दिखवाते हैं

मोहल्ले के लोग गंदगी के कारण दुखी

कुछ ऐसा है हाल

गया प्रसाद तिवारी के घर के बाहर पूरे मोहल्ले का कचरा डाला जाता है। जिससे उनके घर के सामने गंदगी का अंबार लग जाता है। हर तरह की गंदगी उनके घर में भी घुसती दिखाई देती है।सुबह से ही मोहल्ले के लगभग सभी नालियों में गंदगी बहती दिखाई देती है। हर नाली से पाखाना बह रहा है। जो बहाव व नाली के चोक होने के कारण सड़कों पर जमा होकर दुर्गन्ध कर रहा है। कचरा भी जगह- जगह फैला हुआ दिखाई देता है। नहा धोकर मंदिर जाने वाले लोगों को इस गंदगी से होकर गुजरना पड़ता है जिससे भगवान का नाम लेने से पहले उनके मुंह से नगर पालिका के लिए गंदी गालियां निकलती हैं। 

कहते हैं मोहल्ले के लोग 

मोहल्ले के रहने वाले राजकिशोर तिवारी, पौरूष मिश्रा, खेम चैरसिया, अवधेश चैरसिया, आशीष, कमला, आशा, भारती व कुसमा कहती हैं कि यहां रहना बहुत दिक्कत देह है। जब प्रदेश के मुख्य सचिव के घर के सामने का इस तरह का हाल हो तो फिर इस शासन में आम आदमी के रहने के स्तर की केवल कल्पना ही की जा सकती है। 

मुख्य सचिव की भाभी हैं पीएमओ में सचिव

बडे भाई झारखंड के मुख्य सचिव

छोटा भाई पंजाब में सचिव   

गया प्रसाद तिवारी के घर में रहने वालों की स्थिति 

मलकपुरा के रहने वाले गया प्रसाद तिवारी राजकीय इंटर कालेज के सेवानिर्वत शिक्षक हैं। इनके बड़े पुत्र देवेन्द्र कुमार तिवारी झारखंड में मुख्य सचिव हैं। दूसरे बेटे राजेंद्र कुमार तिवारी यूपी के मुख्य सचिव हैं। तीसरे नंबर के बेटे धीरेंद्र तिवारी पंजाब सचिवालय में कैबिनेट सचिव हैं। बड़ी बहू अलका तिवारी इस समय दिल्ली कैडर में पीएमओ में सचिव हैं। एक दामाद भी आईएएस व एक भतीजा रवि गुजरात में आईआरएस है। गया प्रसाद तिवारी मलकपुरा मोहल्ले में अपनी पत्नी सावित्री देवी के साथ रहते हैं। बेटे व बहुएं अक्सर घर पर आकर उनसे मिलते रहते हैं।  

नगर पालिका परिषद के अधिशाषी अधिकारी लाल चंद्र सरोज ने कहा कि इसे साफ कराने के लिए कहा गया है।  
जिलाधिकारी अवधेश कुमार तिवारी ने कहा कि यह नि:संदेह चिंता का विषय है। सफाई तो रोजाना ही होनी चाहिए। इसे ठीक से दिखवाया जाएगा। 

अन्य खबर

चर्चित खबरें