< पीएम ने इसरो चीफ को गले लगाकर पीठ थपथपाई और चांद को छूने का हमारा संकल्प और मजबूत हो गया है Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News नई दिल्ली, 

इसरो कंट्रोल रूम"/>

पीएम ने इसरो चीफ को गले लगाकर पीठ थपथपाई और चांद को छूने का हमारा संकल्प और मजबूत हो गया है

नई दिल्ली, 

इसरो कंट्रोल रूम में वैज्ञानिकों को दिए संबोधन के बाद पीएम मोदी बाहर निकले और भावुक इसरो चीफ के. सिवन फफक-फफककर रो पड़े। पीएम मोदी ने इसरो चीफ को गले लगाकर हिम्मत दी। पीएम ने इसरो चीफ की पीठ थपथपाई, उन्हें गले लगाया और गाड़ी में बैठ गए। पीएम गाड़ी में बैठे और के. सिवन ने हाथ हिलाकर उन्हें अलविदा कहा। इससे पहले पीएम मोदी ने इसरो वैज्ञानिकों की हिम्मत बढ़ाई। कहा चांद को छूने का हमारा संकल्प और मजबूत हो गया है, हम बहुत करीब आ गए थे लेकिन हमें और आगे जाना है।

Image result for Chandrayaan-2:

भारत का महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 शुक्रवार देर रात चांद से महज 2 km की दूरी पर आकर सम्पर्क टूट गया। पीएम मोदी ने इसरो वैज्ञानिकों, को शनिवार सुबह संबोधित किया और उन्होंने वैज्ञानिकों की तारीफ की और उन्हें देश के लिए जीने और जूझने वाला बताया। पीएम ने वैज्ञानिकों का हौसला अफजाई करते हुए कहा कि नाकामियां या रुकावटें हमें लक्ष्य हासिल करने से नहीं रोक सकती। बता दें कि चांद की सतह की ओर बढ़ रहा लैंडर विक्रम का चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर पहले संपर्क टूट गया लेकिन गिर के उठना इसरो के वैज्ञानिकों को आता है।

Related image

अगर आप सोच रहे हैं कि मिशन चंद्रयान-2 पूरी तरह से फेल हो गया है, तो ऐसा बिल्‍कुल नहीं है। चंद्रयान-2 का 95 प्रतिशत हिस्‍सा बाकी और सफलतापूर्वक काम कर रहा है। ऐसे में चंद्रयान-2 को अगर सफल मिशन कहा जाए, तो गलत नहीं होगा। इसरो के एक अधिकारी ने बताया कि चंद्रयान-2 मिशन के केवल 5 प्रतिशत हिस्‍से को ही नुकसान हुआ है।

अन्य खबर

चर्चित खबरें