< पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- कुम्भ के मेले ने देश को स्वच्छता का संदेश देने में सफलता पाई Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स"/>

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- कुम्भ के मेले ने देश को स्वच्छता का संदेश देने में सफलता पाई

भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बच्चों के साथ मिड डे मील का स्वाद लेने पहुंचे हैं। यहां पर अक्षयपात्र फाउंडेशन के 300 करोड़ का लक्ष्य प्राप्त करने के उपलक्ष्य में बच्चों के मिड डे मील बांटे जाने पर आयोजित समारोह में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोगों का अभिवादन स्वीकार किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशाल पंडाल में मौजूद अभिभावकों के साथ बच्चों को भी संबोधित किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश के लोग गौ माता के दूध का कर्ज नहीं चुका सकते। गाय हमारी संस्कृति और परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। गाय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का भी महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। उन्होंने कहा कि देश में पशुपालकों की मदद के लिए अब बैंकों के दरवाजे खोल दिए गए हैं। अब बैंकों से तीन लाख रुपये तक का ऋण मिल सकता है। इससे हमारे तमाम पशुपालकों को लाभ मिलने वाला है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार प्रयागराज कुंभ मेला ने देश को स्वच्छता का संदेश देने में सफलता पाई है। आम तौर पर कुंभ मेला में नागा बाबा की चर्चा होती है, पहली बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने कुम्भ की स्वच्छता को लेकर रिपोर्ट की है। उन्होंने कहा कि यदि हम सिर्फ पोषण के अभियान को हर माता, हर शिशु तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे। इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने पिछले वर्ष राजस्थान के झूंझनू से देशभर में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की थी। पिछले वर्ष सितंबर के महीने को पोषण के लिए ही समर्पित किया गया था। अब सुनिश्चित किया जा रहा है कि बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले। इस काम में अक्षय पात्र से जुड़े आप सभी लोग, खाना बनाने वालों से लेकर खाना पहुंचाने और परोसने वाले तक के काम में जुटे सभी व्यक्ति देश की मदद कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मिशन इंद्रधनुष के तहत देश के हर बच्चे तक पहुंचने का लक्ष्य लिया गया। अब तक इस मिशन के तहत देश में लगभग 3 करोड़ 40 लाख बच्चों और करीब 90 लाख गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण करवाया जा चुका है। जिस गति से काम हो रहा है, उससे तय है संपूर्ण टीकाकरण का लक्ष्य अब ज्यादा दूर नहीं है। मिशन इंद्रधनुष को आज दुनियाभर में सराहा जा रहा है। हाल में ही एक मशहूर मेडिकल जर्नल ने इस कार्यक्रम को दुनिया की 12 बेस्ट प्रैक्टिस में चुना है। हमने टीकाकरण अभियान को तेजी तो दी ही है, टीकों की संख्या में भी बढ़ोतरी की है। पहले के कार्यक्रम में पांच नए टीके जोड़े गए हैं। जिसमें से एक इन्सेफलाइटिस यानि जापानी बुखार का भी है, जिसका सबसे ज्यादा खतरा उत्तर प्रदेश में देखा गया है। अब कुल 12 टीके बच्चों को लगाए जा रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि बच्चों के सुरक्षा कवच का एक और महत्वपूर्ण पहलू है स्वच्छता है। स्वच्छ भारत अभियान के माध्यम से इस खतरे को दूर करने का बीड़ा हमने उठाया। एक अंतरराष्ट्रीय रिपोर्ट आई है, जिसमें संभावना जताई गई कि सिर्फ स्वच्छ भारत मिशन से, करीब तीन लाख लोगों का जीवन बच सकता है।राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन को केंद्र सरकार की उपलब्धि बताया। मिशन इंद्रधनुष के तहत तीन करोड़ 40 लाख बच्चों और 90 लाख महिलाओं का टीकाकरण किया जा चुका। पांच नए टीके जोड़े। जिसमें जापानी बुखार का भी। मिशन को दुनियाभर में सराहा जा रहा है। जर्नल्स ने विश्व के 12 सर्वश्रेष्ठ मिशन में जोड़ा है। गर्भवती महिलाओं के पोषण के लिए 6 हजार की मदद।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रयास 'मैं से हम' तक की यात्रा का सबसे अच्छा उदाहरण हैं। मैं' जब 'हम'बन जाता है तो हम खुद से ऊपर उठकर समाज के बारे में सोचते हैं। मैं जब 'हम' बन जाता है तो सोच का दायरा बढ़ जाता है, 'हम' का विचार अपने देश को, अपनी संस्कृति को व्यक्ति से ज्यादा महत्वपूर्ण बनाता है।

 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें