< मेरठ में मूर्ति स्थापना से रोकने पर परिवारों ने दी धर्म परिवर्तन की धमकी Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News इंचौली गांव के दलितों का आरोप है कि गांव के ही कुछ दबंगों ने मंदि"/>

मेरठ में मूर्ति स्थापना से रोकने पर परिवारों ने दी धर्म परिवर्तन की धमकी

इंचौली गांव के दलितों का आरोप है कि गांव के ही कुछ दबंगों ने मंदिर में उन्हें मां काली की प्रतिमा स्थापित नहीं करने दी। घटना से इलाके के दलित गुस्से में हैं। इनका कहना है कि उन्हें अपना धर्म मानने की भी आजादी नहीं है। दबंगों के रवैये का विरोध कर रहे राजकुमार ने कहा कि क्या हम हिन्दू नहीं हैं, हमें मंदिर में मां काली की प्रतिमा लगाने नहीं दी जा रही है। हम कहां जाएं, इससे तो अच्छा है कि हम अपना धर्म ही बदल लें। मंदिर में मां काली की प्रतिमा स्थापित करने का विरोध करने वाले लोग मंदिर परिसर में कार और ट्रैक्टर पार्क करते हैं। 

विजय कुमार ने कहा कि कांवड़ यात्रा के दौरान उन लोगों ने शिव मंदिर में भंडारे का आयोजन किया था और इसी दौरान वहां पर काली मां की प्रतिमा लगाने पर सहमति बनी थी। जब नवरात्र के पहले दिन वह लोग प्रतिमा लगाने के लिए गये तो कुछ लोगों ने खुद को मंदिर कमेटी का सदस्य बताकर काली की प्रतिमा लगाने का विरोध किया। दरअसल यहां पर नवरात्र में गांव के एक मंदिर में मां काली की मूर्ति स्थापित करने से रोकने पर इन परिवारों ने धर्म परिवर्तन की धमकी दी है।

मेरठ के इंचोली थाना क्षेत्र के एक गांव में 50 दलित परिवारों ने धर्म परिवर्तन की चेतावनी दी । इन सभी की इस चेतावनी से जिला प्रशासन में खलबली मच गई है। एडीएम रामचंद्र ने बताया कि केस की जांच की जाएगी, हालांकि उन्हें धर्म बदलने की दलितों की चेतावनी की जानकारी नहीं है। मां काली की मूर्ति स्थापना करने के मामले में एडीएम रामचंद्र ने बताया कि विरोध करने वालों का कहना है कि वह लोग एक मंदिर में मां काली की मूर्ति स्थापित करना चाहते थे।इसके विपरीत कुछ स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया और उन्हें ऐसा करने से रोक दिया। इस मामले की जांच होगी। उनके धर्म परिवर्तन की मांग के बारे में अभी पता नहीं है। यह मामला जल्द ही सुलझा लिया जाएगा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें