website statistics
एक तरफ मोदी सरकार हर घर शौचालय की बात करते हैं तो वहीं रेलवे व"/>

रेलवे द्वारा अतिक्रमण हटाने से आम लोगों को हो रही है भारी समस्या

  • एक तरफ मोदी सरकार हर घर शौचालय की बात करते हैं तो वहीं रेलवे विभाग अतिक्रमण हटाने के नाम पर आधा सैकड़ा परिवार से छीन रहा है शौचालय

मानिकपुर के आर्य नगर वार्ड के  सैकड़ो लोगों के लिए इन दिनों रेलवे द्वारा चलाई जा रही अतिक्रमण की मुहीम भारी समस्या बन रही है । आधा सैकड़ा घरों में अतिक्रमण हटाने के कारण शौचालय टूट चुके हैं जिस कारण महिलाओं और बच्चों को बाहर शौच के लिए जाना पड़ता है ।

वार्ड के सैकड़ो लोगों ने रेलवे के उच्चाधिकारियों को भेजे पत्र में लिखा है कि विगत 60 वर्षों से इन सभी घरों में निकास द्वारा प्रयोग हो रहे थे लेकिन रेलवे द्वारा अतिक्रमण हटाने के नाम पर सभी के शौचालय तोड़ दिए गए हैं । भेजे पत्र में सभी ने उच्च अधिकारियों से निवेदन किया है कि जो निकास द्वार बने हैं उनके 5 फीट बाहर से अतिक्रमण हटाने की प्रक्रिया अपनाई जाये ।

बहरहाल , रेलवे के उच्चाधिकारियों से जब इस सम्बंध में बात करने की कोशिश की गई तो किसी ने बात नही की । लेकिन ये हैरान करने वाला विषय है कि अतिक्रमण हटाने के नाम पर आम लोगो से उनके शौचालय क्यों छीने जा रहे हैं । महिलाओं और बच्चों को जो समस्या हो रही है उसकी जिम्मेदारी कौन लेगा । रेलवे के अधिकारियों का इस विषय पर साधा गया मौन कई प्रश्न खड़े करता है ।

विवेक केसरवानी, राजकुमार केसरवानी, बरुण गौतम, विष्णु केसरवानी, रामकिशोर साहू, राहुल केसरवानी, रामनाथ, मोहन चौबे, आदित्य गौतम आधा सैकड़ा नगर वासियों ने रेलवे के अतिक्रमण हटाने की मुहीम का कड़ा विरोध करते हुए कहा है कि रेलवे हमारे साथ अन्याय कर रहा है ।

About the Reporter

  • अनुज हनुमत

    5 वर्ष , परास्नातक (पत्रकारिता एवं जन संचार)



चर्चित खबरें