website statistics
ब्लाक मुख्यालय पहाड़ी जिले का प्रमुख ब्लाक है। यहाँ ए"/>

एक अदद खण्ड विकास अधिकारी के तलाश में ब्लाक मुख्यालय पहाड़ी

ब्लाक मुख्यालय पहाड़ी जिले का प्रमुख ब्लाक है। यहाँ एक खण्ड विकास अधिकारी नहीं होने से जनता को प्रभारी जिला परियोजना निदेशक कभी भी समय पर मिल नहीं पाते। कार्यालय समय पर प्रभार दिनांक के बाद से अब तक व्यवहारिक रूप से नहीं आए, बतौर रजिस्टर आदि में अवश्य समय अंकित हो तो यह भी बड़ी हेराफेरी मानी जाएगी।

सूबे की योगी सरकार का फरमान है कि अधिकारी सुबह 9 से 12 तक जन सुनवाई करें लेकिन सरकार के इस फरमान की धज्जियां ब्लाक पहाड़ी में खुलेआम उड़ाई जा रही हैं।

चूंकि इस ब्लाक में तिरहार आदि के सुदूरवर्ती गाँव भी लगते हैं। आम जनता विभिन्न प्रशासनिक कार्यों से सैकड़ो किलोमिटर की दूरी से आती है और फौरन ही निराश होकर लौटना पड़ता है।

कुछ दिनों पूर्व प्रधान संघ ने भी इनके कार्यकलाप पर नाराजगी जताई थी। सूत्रों के मुताबिक डीएम चित्रकूट से मिलकर तत्काल समस्या हल करने हेतु आग्रह किया। किन्तु अफसोस जनक रहा कि अब तक जनहित व विकास कार्यों की प्रगति हेतु समस्या का निराकरण नहीं किया गया।

पूर्व में शेर बहादुर सिंह को ब्लाक पहाड़ी व ब्लाक रामनगर का संयुक्त प्रभार था, जिससे स्थितियां कुछ संतुष्ट जनक थीं। वे जनता से हफ्ते में अनेक बार संयुक्त रूप से रूबरू हो लेते थे। परंतु यह जानने योग्य है कि स्थायी खण्ड विकास अधिकारी को हटाकर और प्रभार सौंप कर आखिर किस प्रकार जनहित व विकास कार्यों को प्रगति प्रदान की जा सकेगी।

इस समस्या के निवारण में ही सरकार की मंशानुरूप जनहित व विकास कार्य को प्रगति मिल सकती है।



चर्चित खबरें