website statistics
अजयगढ़ तहसील अंतर्गत रेत कारोबार को लेकर आये दिन मारप"/>

सुनहरा रेत खदान पर फायरिंग कर फैलाई दहशत, पुलिस ने किया मामला दर्ज

अजयगढ़ तहसील अंतर्गत रेत कारोबार को लेकर आये दिन मारपीट तथा बंदूक धारियों द्वारा दहशत फैलाने की घटनायें प्रकाश में आ रही है। वीती रात्रि सुनहरा रेत खदान पर अज्ञात बंदूक धारियों द्वारा खदान पर पहुंचकर बंदूकों से दनादन फायरिंग की गई। फायरिंग होते ही खदान में उपस्थित कर्मचारियों तथा अन्य मजदूरों में भगदड़ मच गई। बताया जाता है कि लगभग 10 से 12 राउण्ड गोलियाँ चलाई गई जिससे पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल कायम हो गया। घटना की जानकारी वीरा पुलिस चैकी तथा अजयगढ़ थाने को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस बल घटना स्थल पहुंचा तथा बंदूक के खाली खोखे आदि बरामद किये गये तथा जान बचाकर भागने वाले कर्मचारियों से पूंछतांछ की गई।

पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। सूत्रों द्वारा बताया गया कि सुनहरा के सरपंच तथा उसके अन्य सहयोगियों द्वारा घटना को अंजाम दिया गया। ज्ञात हो कि अजयगढ़ क्षेत्र में वैद्य तथा अवैध खदानों में स्थानीय दबंगों तथा राजनैतिक सत्ताधारी दलों के संरक्षण में रेत का अवैध कारोबार व्यापक स्तर पर कराया जाता है। तथा उनके कार्योें में हस्ताक्षेप करने वालों के खिलाफ दहशत का माहौल तैयार किया जाता है।

रेत के कारोबार में नेता अधिकारी, पुलिस सभी शामिल है। जिनमें आये दिन वरचस्व की लड़ाई हो रही है। रेत नीति को लेकर वर्तमान में शासन द्वारा सरपंचों को अधिकार दिये जाना यह भी इस लड़ाई की मुख्य वजह हो सकती है। चूंकि सुनहरा सरपंच द्वारा अपने हिस्से की मांग की गई होगी। जिसके चलते यह विवाद निर्मित हुआ।



चर्चित खबरें