< मरने से पहले थाने में हत्या की आशंका जताई थी मृतक ने Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जनपद के थाना कमासिन अन्तर्गत ग्राम साडासानी में कल शाम जिल पूर्"/>

मरने से पहले थाने में हत्या की आशंका जताई थी मृतक ने

जनपद के थाना कमासिन अन्तर्गत ग्राम साडासानी में कल शाम जिल पूर्व प्रधान की हत्या सरेआम की दी गई। उसकी दोनाली बन्दूक डीएम के ओदश पर चार दिन पहले ही जमा कर ली गई गई थी।

बताते चले कि कम शाम को 6 बजे पूर्व ग्राम प्रधान रमेश कुमार शुक्ला (45) पुत्र राधेश्याम शुक्ला जब वाहक से अपने घर जा रहा था तभी गाँव के समीप मोड में नरेन्द्र सिंह ने उसकी गाड़ी रूकवाई। गाड़ी रूकते ही पहले से घात लगाकर बैठे हमलावरों ने गोली मर दी। जिसकी मौके पर मौत हो गई। परिजनों ने हत्या के मामले में गाँव के शिवकुमार, रामू, नंदलाल और अवधेश यादव को नामजद किया था। हमलावर व मृतक के बीच पुरानी रंजिश चली आ रही है। 2014 में प्रधान रहे रमेश कमार शुक्ला ने हमलावर शिव सिंह के भाई जयसिंह को पीटा था जिसकी मौत हो गई थी। इस मामले में प्रधान को जेल जाना पड़ा था।

पूर्व प्रधान के जेल से बाहर आने पर हमलावरों ने रामेश कुमार शुक्ला पर प्राण घातक हमला किया था। इस मामले में हमलावर जेल चले गए थे। जेल से वापस आने पर उन्होंने 4 माह पूर्व अंशू देवी पत्नी ललुवा बड़गइया पर प्राण घातक हमला किया था। जिसमें वह पुनः जेल से छूट कर आ गए तो पूर्व प्रधान ने अपनी हत्या की आशंका जताई। इस बीच डीएम ने पूर्व प्रधान से लाइसेसी दोनाली बन्दूक जमा कराने के ओदश दिये। मृतक ने पूर्व मंत्री शिवशंकर सिंह पटेल के साथ डीएम से मिलकर शस्त्र न जमा कराने की प्रार्थना की परन्तु डीएम ने आदेश को वापस नही लिया।

कल की घटना से पहले मृतक थाने में प्रार्थना पत्र देने गया था कि उसकी सुरक्षा की जाये अन्यथा हत्या हो सकती है और उसकी आशंका सही साबिल हुई।

 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें