website statistics
कस्बा के छोटे से गांव से निकल युवक ने अपने क्षेत्र जि"/>

गरीब परिवार से निकले हरीओम ने किया जिले का नाम रोशन

कस्बा के छोटे से गांव से निकल युवक ने अपने क्षेत्र जिला व माता पिता तथा गुरूजनों का नाम रोशन किया हैं। लखनऊ में राष्टपति ने उन्हें पीएचडी की उपाधि स्वयं प्रदान कर सम्मानित किया है। कस्बे के बेटे को यह  उपाधि मिलने से केवल उनके परिजनों में ही नही अपितु पूरे गांव व कस्बे में खुशी की लहर है। पूरे गांव में मिठाईयां बांटी जा रही है।

कहावत है कि ऊट के पैर पालने में ही दिखाई पड जाते है। पनवाडी कस्बे के तेईयां गाव में बहुत ही गरीब परिवार से हरीओम श्रीवास पुत्र अमान सिंह श्रीवास ने केवल अपने माता पिता व गांव का ही नही अपितु पूरे जिले वासियों का नाम रोशन किया है। हरीओम के घर पर सुबह से ही लोगों को आने जाने तथा बधाईयों का सिलसिला जारी है। हरीओम बेहद गरीब परिवार से है तथा किसी प्रकार मेहनत मजदूरी कर उनहोन वह मुकाम हासिल किया जिसे हर किसी को पाना सम्भव नही है। बाबा साहब डाॅ भीमराव अम्वेडकर लखनऊ में आयोजित सातवे दीक्षान्त समारोह के मुख्य अतिथि भारत के राष्ट्रपति डाॅ0 रामनाथ कोविन्द्र ने हरीओम को डाॅक्टरेट आॅफ फिलाॅस्फी पीएचडी की उपाधि से सम्मानित किया।

हरीओम को पुस्तकालय एवं सूचना विभाग के प्रो0 महेन्द्र प्रताप सिंह के निर्देशन में शोध पूर्ण करने पर उपािध से सम्मनित किया गया। हरीओम को भारत के राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किये जाने से केवल तेइयां गोव की नही अपितु पूरे कस्बे में खुशी की लहर है। हरीओम के शिक्षकों में भी भारी खुशी व्याप्त हैं उन्होने हरीओम के घर पर जाकर बधाईयां दे हरीओम के माता पिता का मुंह मीठा कराया।

एक गरीब परिवार से निकल हरीओम ने बिना किसी साधन सुविधा के वह कर दिखाया जिसे अच्छे से अच्छे प्रतिभावान बच्चे करने में असमर्थ रहते है। हरीओम की इस कामयाबी से पूरे गांव में खुशी की लहर है तथा उनके घर पर ग्रामीणों तथा लोगों का आना जाना बना हुआ है।



चर्चित खबरें