< रेलवे लाइन के लिये भूमि अधिग्रहण में भी किया जा रहा है भेदभाव किसानों ने सही मुआवजा दिलाये जाने एस डी एम को सौंपा आवेदन Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News जिले के इन दिनों ललितपुर सिंगरोली रेल लाइन का काम चल रहा है। जिस"/>

रेलवे लाइन के लिये भूमि अधिग्रहण में भी किया जा रहा है भेदभाव किसानों ने सही मुआवजा दिलाये जाने एस डी एम को सौंपा आवेदन

जिले के इन दिनों ललितपुर सिंगरोली रेल लाइन का काम चल रहा है। जिससे अंतग्र्रत  मार्ग पर पङने वाली भूमि का अधिग्रहण कार्य किया जा रहा है। पङोसी जिला में तो यह प्रकिया पूरी हो चुकी है।लेकिन पन्ना  में इसका प्रांरभिक  दौर चल रहा है। जिसके लिये राजस्व के कर्मचारियों को भूमि अधिग्रहण की रिपोर्ट तैयार करने केी जिम्मेदारी सोपी गई थी। पटवारियों द्वारा देवेन्दनगर तहसील मे पङने वाली रेल लाइन के बीच की भूमि का सर्वे किया और अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत भूमि का मूल्य तय किया था। यह मोजूदा भाव से बहूत कम है।

जिसको लेकर देवेन्दनगर तहसील के सैकङो किसान की एसडीएम पन्ना के पास पहुंचे तथा आवेदन के माध्यम से आप्पती दर्ज कराई तथा वर्तमान में निर्धारित मूल्य के अनुसार मुआवजा देने की मांग की गई । गा्रम देवेन्दनगर बङोरा गा्रम के किसानो ने सखा राम श्याम लाल राजा राम भगवान दास धरम दास सिया बाई स्वामी दीन गोविन्द राजेश बसूरी लाल राम लाल लीला बती साहू आदि ने बताया कि भू अर्जन में संबध्ति अधिकारियो एंव कर्मचारियों द्वारा दोहरी नींद अपनाई जा रही है।

यदि हमारे द्वारा भूमि किसी अन्य बिचोलियो को बेची जाती है तो उसके अलग दाम होते है और यदि जमीन प्रशासन भूु अर्जन करता है तो उसे ओने  पोने दाम दिये जा रहे है। देवेन्दनगर के किसान राजा राम ने बताया कि हमारे खेत की कीमत 50 लाख रूपये बजार भाव के अनुसार है । लेकिन प्रशासन द्वारा 10/15 लाख रूपये का मुआवजा बनाया जा रहा है। किसानो का कहना है कि यदि हमारी जमीन का उचित मूूल्य   नही दिया गया तो हम लोग इसके खिलाफ न्यालय की सरण लेंगे ।

गौरतलब है कि ललितपुर सिंगरोली रेल लाइन 541 किलो मीटर का निर्माण कार्य वर्ष 2000 से चल रहा है जिसमें अलग अलग क्षेत्र में कार्य किया गया वर्तमान समय में पन्ना सतना रेलवे लाइन का कार्य लगभग 70 किलोमीटर का निर्माण कार्य किया जाना है इसी के लिये भूमि अधिग्राहण किया जा रहा है। यदि प्रशासन द्वारा भेदभाव पूर्व कार्य किया जायेगा तो आगामी समय मे निमार्ण कार्य में अनेक प्रकार की कठिनाईयां आयेगी।

इस लिये जिला प्रशासन को शासन की नीति अनुसार किसानोे को विश्वास में लेकर भूमि अधिग्रहण कार्य करना होगा। जिससे कार्य मे गति बनी रहे और किसी प्रकार का अङंगा पैदा न हो जिले के लोग वर्षो से पन्ना में रेल लाइन का सपना देख रहे है। यदि समय रहते कार्य पूर्ण हो गया तों 2/4 वर्ष में यह कार्य हो जायेगा तथा जिले के लोगो को छुक छुक की अवाज सुनाई देने लगेगी । 

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें