जनपद में अवैध खनन करने वालों के हौंसले बुलंद होने के कारण पुलिस "/>

अवैध बालू खनन माफियाओं ने असलहों के बल पर छुडा लिये बालू भरे टैªक्टर कुरारा सहित कई थाना क्षेत्रों में चल रहा अवैध बालू खनन का धंधा

जनपद में अवैध खनन करने वालों के हौंसले बुलंद होने के कारण पुलिस के मौजूदगी मे ही बालू से भरे दो ट्रक असलहों के बल पर भगा ले जाने में सफल रहें। दबंग असलहाधारियों ने टीम के साथ धक्का-मुक्की सरकारी कार्य में बाधा डालने तथा गाली गलौज कर धमकी दी।   खनिज विभाग के अधिकारी के के राय ने थाना कुरारा  में अवैध खनन करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। 

विभागीय  अधिकारियों ने गांव के ही मुकेश पाल व आशीष का बालू भरा टैªक्टर सीज कर दिया है। खनन अधिकारी ने बेरी गांव के समसुल, श्याम महाराज द्विवेदी, विनोद गुप्ता, मुकेश गुप्ता, आशीष सिंह सहित कई लोगों के खिलाफ  सरकारी कार्य में बाधा डालने व खनिज अधिनियम के तहत मामला दर्ज कराया है। जनपद के कुरारा थाना क्षेत्र से अवैध बालू खनन का गोरख धंधा बडी तेजी के साथ चल रहा है। 

खनन विभाग के अधिकारियों का कह ना है कि पुलिस और टीम के चुंगल से असलहा के  बल पर दो टैªक्टर  छुडा लिये है और दो टैªक्टरो को सीज कर दिया गया है। अवैध खनन को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कडी नाराजगी बताते हुये अवैध खनन करने वालों के खिलाफ कडी़ कार्य वाही किये जाने के निर्देश  डीएम व एसपी को दिये थे। इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक ने  थानाध्यक्ष ललपुरा व कुरारा तथा बिवांर में तैनात उप निरीक्षक व पुलिस कर्मी को निलम्बित किया गया था।

इसके बाद भी कुरारा थाना क्षेत्र के बेरी, पतारा, कंडौर सहित जिले में बडे पैमाने पर बेतवा व बर्मा नदी से अवैध खनन चल रहा है। अवैध खनन को लेकर बेरी गांव में दो पूर्व प्रधानों के बीच संघर्ष होने के कारण एक पूर्व प्रधान के पुत्र पर जानलेवा हमला किया गया था जिसमें बेरी के पूर्व प्रधान राजेश सिंह सहित कई के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। जिसमें पूर्व प्रधान राजेश को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास पुलिस कर रही है।  प्रशासन अवैध खनन कारोबार को रोकने में नाकाम साबित  हो रहा है।



चर्चित खबरें