कुलाधिपति एवं राज्यपाल श्री अ¨म प्रकाश क¨हली ने महात्मा गांध"/>

प्र¨. नरेश चन्द्र ग©तम महात्मा गांधी चित्रकूट ग्राम¨दय विश्वविद्यालय के कुलपति नियुक्त

कुलाधिपति एवं राज्यपाल श्री अ¨म प्रकाश क¨हली ने महात्मा गांधी चित्रकूट ग्राम¨दय विश्वविद्यालय, चित्रकूट के कुलपति प्र¨. नरेश चन्द्र ग©तम क¨ उनका कुलपति पद का कार्यकाल समाप्त ह¨ने के पश्चात कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से चार वर्ष की कालावधि के लिए पुनरू महात्मा गांधी चित्रकूट ग्राम¨दय विश्वविद्यालय, चित्रकूट का कुलपति नियुक्त किया है। इस आशय की जानकारी शासकीय सूत्रों से प्राप्त हुई है। विकास एवं प्रगति की नई सम्भावनाओं के साथ ग्रामोदय विश्वविद्यालय परिवार ने कुलपति प्रो. गौतम की पुनः नियुक्ति पर बधाई देते हुये शुभकामनायें दी हैं। कुलपति प्रो0 गौतम के शुभचिंतकों ने नये कार्यकाल की दूरभाष पर बधाई दी है।
ज्ञातव्य हो कि प्रख्यात कृषि वानिकी एवं उद्यानिकी वैज्ञानिक एवं प्रशासक, शिक्षाविद् प्रो0 नरेश चन्द्र गौतम ने आज महात्मा गाॅधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय के कुलपति पद पर विगत 20 नवम्बर 2013 को नियुक्ति की गई थी। लगभग 4 वर्ष की कालावधि में कुलपति प्रो. गौतम ने ग्रामोदय विश्वविद्यालय का नवीन स्वरूप गुणवत्ता और पूर्ण शिक्षा एवं अनुशासित परिसर के रूप में स्थापित कर दिया। प्रो0 गौतम के प्रथम कार्यकाल में ही शैक्षणिक गुणवत्ता मूल्यांकन के लिये कार्यरत संस्था नैक बंगलौर ने प्रथम प्रयास में ही महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्व विद्यालय को ए ग्रेड प्रदान कर प्रतिष्ठा पूर्ण दर्जा प्रदान किया था।

ग्रामोदय विश्वविद्यालय के अतिरिक्त प्रदेश के किसी भी विश्व विद्यालय को प्रथम बार में यह उपलब्धि अर्जित नहीं हो सकी हैै। अनेक शैक्षणिक और प्रशासनिक नवाचारों का परिणाम ग्रामीण विश्वविद्यालय कैम्पस में साफ झलक रहा है। राष्ट्र ऋषि नाना जी देशमुख द्वारा स्थापित एवं परिकल्पित इस ग्रामीण विश्वविद्यालय में छात्र-छात्राओं के लिये ड्रेस कोड, नवीन फैकेल्टी भवनों, प्रयोगशाला कक्षों, रजत जयंती भवन, स्वच्छ और ग्रीन कैम्पस, कृषि शिक्षा के लिये  कृषि फार्म में पृथक संकाय भवन का निर्माण, राष्ट्र ऋषि नाना जी देशमुख द्वार, कृषक परीक्षण भवन, मुख्यमंत्री नेतृत्व क्षमता विकास भवन इत्यादि का निर्माण परिसर को आकर्षक और सुसज्जित प्रदर्शित कर रहा है।
 इसके पूर्व प्रो0 गौतम, नरेन्द्र देव कृषि एवं टेक्नाॅलोजी विश्वविद्यालय फैजाबाद में अधिष्ठाता के पद पर कार्यरत थे। शैक्षणिक एवं प्रशासनिक प्रतिभा एवं प्रतिष्ठा के धनी प्रो0 गौतम वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर (उ.प्र.) के कुलपति भी रह चुके हैं। इन्हें अन्तर्राष्ट्रीय तथा राष्ट्रीय स्तर की अनेक संस्थाओं ने सम्मानित भी किया है।
प्रो0 गौतम का अकादमिक कैरियर बहुत ही उज्ज्वल है तथा अनेक फेलोशिप भी मिली हैं। शोध और शिक्षा के क्ष्ेात्र में इनकी अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिष्ठा है। सब्जियों की 30 फसलों को विकसित कर इन्होंने इस क्षेत्र में विशेष उपलब्धि अर्जित की है। प्लांट ब्रीडिंग एवं वेजिटेबल ब्रीडिंग में इन्हें विशेष दक्षता है। लगभग एक सैकड़ा शोध पत्रों एवं अट्ठारह प्रतिष्ठित पुस्तकों के लेखन सम्पादन किया है।
प्रो0 गौतम ने अपने करियर का प्रारम्भ भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद्, पूसा, नई दिल्ली से किया है। लगभग 40 वर्षों की विशिष्ट कालावधि में स्नातक, परास्नातक तथा शोध के विद्यार्थियों को अपने मार्गदर्शन में अध्ययन कराकर उन्हेें उनके लक्ष्य तक पहुॅचाने में इनका विशेष योगदान रहा है। नेशनल, इंटरनेशनल अवार्डो की श्रंृखला में प्रो0 गौतम को मिले वर्ष 1985 में यंग साइंटिस्ट अवार्ड, वर्ष 2001 में आबजर्वर अवार्ड तथा वर्ष 2002 में सेंट्रल स्टडीज यू.एस.ए. अवार्ड, इंदिरा प्रियदर्शनी अवार्ड, वर्ष 2004 में राजीव गाँधी राष्ट्रीय एकता अवार्ड, बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय का ऋषि अवार्ड, विज्ञान भूषण अवार्ड आदि प्रमुख हैं।

प्रो0 गौतम को भारत सरकार द्वारा विभिन्न संस्थानों में सदस्य नामित किया गया है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग एवं भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् दिल्ली की विभिन्न उच्च स्तरीय समितियों में नामित किये गये है। प्रो0 गौतम ने शिक्षण और वैज्ञानिक शोध से सम्बन्धित कार्यो के लिए जापान, इजराइल, फिलीपींस एवं अनेक यूरोपीय देशों की यात्रा भी की है।

 

About the Reporter

  • राजकुमार याज्ञिक

    चित्रकूट जनपद के ब्यूरो चीफ एवं भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार याज्ञिक चित्रकूट जनपद के एक वरिष्ठ पत्रकार हैं। पत्रकारिता में स्नातक श्री याज्ञिक मुख्यतः सामाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर अपनी गहरी पकड़ रखते हैं।, .



चर्चित खबरें