website statistics
वो जितनी खूबसूरत थी उतनी ही साहसी थी। जिसका कोई पैमान"/>

पनामा पेपर्स को उजागर करने वाली महिला पत्रकार की मौत

वो जितनी खूबसूरत थी उतनी ही साहसी थी। जिसका कोई पैमाना नहीं था लेकिन विश्व भर के भ्रष्टाचारी नेताओं ने उस अदम्य साहसी महिला पत्रकार को बम द्वारा मौत की नींद सुलवा दिया। पनामा पेपर लीक्स का नाम सभी ने सुना होगा और इसको एक महिला पत्रकार डेफने केरूआना गेलीजिया ने दुनिया के पटल पर रखा था। इनकी वजह से ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पद से इस्तीफा देना पड़ा।

इसी महिला पत्रकार ने दुनिया भर की सत्ता को हिला दिया था। लेकिन राजनीति की जीत हुई और एक पत्रकार की भयावह मौत उस ओर इशारा है कि वास्तव में कल के दिन अभिव्यक्ति की आजादी पर भय का ताला जड़ दिया जाएगा। महसूस होता है कि कहीं ना कहीं बुराई का स्तर बढ़ता जा रहा है। दुनिया के अच्छाई और बुराई के शेयर मार्केट में बुराई का शेयर सूचकांक बढ़ रहा है।

वक्त अभी भी है कि अच्छे लोगों को एकजुट होना चाहिए और अभिव्यक्ति की आजादी के द्वारा राष्ट्र निर्माण के पथ पर चलना चाहिए वरना इस महिला पत्रकार की तरह सच की लड़ाई लड़ने वाले यूं ही मौत के मुंह में ढकेल दिए जाएंगे।

आखिर सच लिखेगा भी कौन, वही जो मौत मुट्ठी में लेकर चलेगा।

About the Reporter



चर्चित खबरें