< पैसे न देने पर सींचपाल ने दूसरे के नाम किया पट्टा Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, Samachar - Bundelkhand News पिता का पट्टा पुत्र के नाम कराने पर सींचपाल द्वारा पैसों की मांग"/>

पैसे न देने पर सींचपाल ने दूसरे के नाम किया पट्टा

पिता का पट्टा पुत्र के नाम कराने पर सींचपाल द्वारा पैसों की मांग की गई। पीडित द्वारा पैसे न होने की बात कहने पर सींचपाल ने कागजों में हेरफेर कर अन्य ग्रामीण के नाम पट्टा कर दिया। जिससे आहत हो पीडित ने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र सौंप पट्टा के नवीनीकरण की जांच करवा कर पुनः पीडित के नाम पट्टा का नवीनीकरण कराये जाने की गुहार लगाई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार चरखारी थाना क्षेत्र के महाराजपुरा गांव निवासी जयकरन पुत्र छिद्दी को मौजा गोपालपुरा तहसील चरखारी में स्थित गाटा संख्या 145 रकवा 2.50 हेक्टेयर का पट्टा वर्ष 1985 कसे 1988 तक का प्रार्थी के पिता छिद्दी पुत्र भोना के नाम हुआ था। प्रार्थी के पिता के बाद उक्त गाटा संख्या का पट्टा प्रार्थी जयकरन पुत्र छिद्दी निवासी महाराजपुरा के नाम वर्ष 2002 से 2007 तक के लिये पट्टा किया गया था। इसके बाद प्रार्थी उक्त पट्टे का नवीनीकरण कराना चाहता था तथा नवीनीकरण की समस्त कार्यवाही प्रार्थी द्वारा करा दी गई है। जब प्रार्थी ने उक्त पट्टे के नवीनीकरण करने के लिये  सींचपाल धर्मपाल राजपूत उससे 20 हजार रूपये की मांग करने लगा।

प्रार्थी द्वारा रूपये देने में असमर्थता जताने पर सींचपाल द्वारा प्रार्थी का उक्त पट्टा जयसिंह राजपूत के नाम कर दिया गया तथा दूसरा पट्टा सुरेन्द्र राजपूत के नाम कर दिया गया है। प्रार्थी जयकरन ने जिलाधिकारी को दिये प्रार्थना पत्र में उल्लेख करते हुये सींचपाल के खिलाफ जांच करा उचित कार्यवाही किये जाने तथा पुनः पट्टे का नवीनीकरण कर प्रार्थी के नाम कराये जाने की गुहार लगाई है।

सींचपाल के खिलाफ महिलाओं ने लगाई डीएम से गुहार
पट्टा धारक महिलाओं पर सींचपाल दवाव बना रहा है। महिलाओं का आरोप है कि सींचपाल और सिंचाई विभाग के अन्य अधिकारी नवीनीकरण कराने के लिये 15 हजार रूपयों की मांग कर रहे है। इससे पूर्व भी तीन हजार रूपये ले लिये थे। परन्तु अभी तक पट्टे का नवीनीकरण नही किया हैं उनके द्वारा कहा जा रहा है कि सात सात हजार रूपये और दो तक तुम्हारे नाम पट्टे का नवीनीकरण किया जायेगा। गुड्डो, फूला देवी, प्रेमरानी आदि महिलाओं का आरोप है कि सींचपाल लगातार पैसों की मांग करते हुये धमकियां दे रहा है कि शीघ्र ही पैसे नही दिये गये तो पट्टा दूसरों के नाम कर दिया जायेगा।

तुम लोगों को जितनी शिकायत जिस अधिकारी से करना है तो शौक से करो मेरी सेहत पर कोई भी फर्क नही पडने वाला है। महिलाओं ने सिंचाई विभाग के अधिशाषी अभियन्ता सहित जिलाधिकारी को भी प्रार्थना पत्र सौंप पट्टे का नवीनीकरण कराये जाने की गुहार लगाई है। अगर पट्टा केसिंल कर दिया गया तो हम गरीब लोगों पर परिवार व बच्चों के भरण पोषण का संकट खडा हो जायेगा।

About the Reporter

अन्य खबर

चर्चित खबरें