हमारे देश में सड़क दुर्घटना होती रहती हैं। बढ़ते ट्रै"/>

छात्र को तड़पता छोड भागा सभासद का भाई

हमारे देश में सड़क दुर्घटना होती रहती हैं। बढ़ते ट्रैफिक व अनियंत्रित ड्राइविंग से इस प्रकार की घटना की तादाद बढ़ती जा रही है। ड्रिंकिंग विद ड्राइविंग के चलन से भी लोग सड़क दुर्घटना में जान गवां रहे हैं। लेकिन समाज है कि जागने व सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। हालिया मामला उत्तर प्रदेश के झांसी जिले का है। जिला मुख्यालय में 21 वर्षीय छात्र आदित्य वाधवा का एक्सीडेंट शाम के 8:30 पर हो जाता है और उसके आसपास भी कोई फटकता नहीं। जो मानवता को शर्मसार कर देता है।

क्या है पूरा मामला
आदित्य वाधवा घर वापस होते समय जैसे ही एसएसपी आफिस के सामने से गुजरते हैं। उनके साइड से एक i-10 कार निकलते हुए एकाएक रूक जाती है। उन्हे संभलने का वक्त नहीं मिलता है और ड्राइवर साइड का गेट ओपन होते ही एक जोर की टक्कर हो जाती है। जिसमें छात्र के पैर में गंभीर चोट आ जाती है तथा मांस का लोथड़ा बाहर निकल जाता है। वो जैसे ही अपने परिजनों को फोन द्वारा कांटेक्ट करना चाहते हैं। ठीक उसी समय उनका मोबाइल भी छीन लिया जाता है और फिर उसे अकेला छोड़ सभासद विकास खत्री का भाई बाॅबी मानवता की सारी हदें पार कर जाता है। एक अकेले तड़पते हुए छात्र को छोड़कर वो अपने घर पहुंच जाता है। परंतु इसी दुनिया में तनिक सी अच्छाई की नींव से सारी दुनिया टिकी हुई है।

ऐसा ही कुछ आदित्य बाधवा के साथ हुआ और अब वो अस्पताल में जिंदगी की जंग को पार कर 3 - 4 महीने बेड रेस्ट पर रहेगा। इस प्रकार की घटना में अमानवीयता का असर ही मानवता की कब्र खोदता जा रहा है। जो लोग लीडरशिप की बात करते हैं, उनके ही घर परिवार के परिजन में जब मानवता ना हो तो वाकई समाज को शर्मसार कर जाता है।



चर्चित खबरें