website statistics
सैकड़ों कृषकों ने खेती की सिचाई हेतु नहर निर्माण की मा"/>

बिलखुरा बांध से निकाली जा रही नहर

सैकड़ों कृषकों ने खेती की सिचाई हेतु नहर निर्माण की मांग को लेकर जनसुनवाई में शिकायत प्रस्तुत की। शिकायत में उल्लेख किया गया है कि ग्राम अहिरगवां एवं अहिरगवां केम्प के निवासी कई वर्षों से इंतजार में थे कि बिलखुरा बांध का निर्माण होगा तो अहिरगवां ग्राम के किसानों के खेतो की सिचाई होगी। परन्तु नहर का जो सर्वे हुआ उसमें अहिरगवां के ग़रीब कृषकों के लिए राजनैतिक संरक्षण दबाव के चलते एवं सर्वे करने वाले अधिकारी ने अहिरगवां के वास्तविक किसानों की खेती से हटकर सर्वे किया अर्थात् अहिरगवां के किसानों के लिए छोड़ दिया। जबकि अहिरगवां के किसानों की खेती के लिए नहर का निर्माण होना नितांत जरूरी है।

शिकायत में यह भी उल्लेख किया गया है कि 11 जनवरी, 2016 को मंत्री कुसुम महदेले को आवेदन दिया था जिसमें सुश्री महदेले द्वारा जिला कलेक्टर को अनुशंशा की गई थी अहिरगवां के किसानों की खेती के यहां से नहर निकलना चाहिये। शिकायत में प्रमुख रूप से ग्राम वासियों ने कलेक्टर पन्ना के नाम प्रस्तुत शिकायत में उल्लेख किया है कि नहर का सर्वे पुनः कराया जाये और अहिरगवां के कृषकों की खेती की सिचाई हेतु नहर का निर्माण कराया जाये। 

उक्त संबंध में किसानों को भरोसा दिलाते हुए मध्यप्रदेश युवक कांग्रेस पन्ना विधानसभा के अध्यक्ष दीपक तिवारी ने कहा यदि किसानो की मांग पर जिला प्रशासन तथा जल संसाधन विभाग द्वारा तत्काल निर्णय नही लिया गया तो युवक काग्रेस किसानो के साथ मिलकर व्यापक आंदोलन करने के लिए मजबूर होगी। उन्होने जिला प्रशासन से तत्काल कार्यवाही की मांग की है।



चर्चित खबरें