गौरक्षा को लेकर संतो ने मथुरा से यात्रा शुरू की है। म"/>

गाय-बैलो से किसान था खुशहाल: नारायण दास

गौरक्षा को लेकर संतो ने मथुरा से यात्रा शुरू की है। मंगलवार को चित्रकूट के कामदनाथ प्रमुख द्वार पहुंची। अगुवाई कर रहे स्वामी नारायण दास ने बताया कि यह यात्रा गौरक्षा को लेकर की जा रही है। गाय व बैलो से किसान व समाज खुशहाल था। विकास के नाम पर विनाश हो रहा है।

मंगलवार को मथुरा से छह दिसम्बर को गौरक्षा को लेकर संतो ने स्वामी नारायण दास की अगुवाई में यात्रा निकाली गई। मंगलवार को चित्रकूट के कामदनाथ प्रमुख द्वार पर यात्रा पहुंचने पर मुखारबिन्दु के महंत मदनदास ने स्वागत किया। इस दौरान स्वामी नारायण दास ने पत्रकारों से रूबरू होकर बताया कि यात्रा छह सितम्बर से मथुरा से निकाली गई है। आगामी 20 सितम्बर को लखनऊ में समापन कर मुख्यमंत्री को गौरक्षा बावत ज्ञापन सौपा जायेगा।

बताया कि इसे लेकर तीन मार्च 2018 को पद यात्रा मथुरा से दिल्ली जायेगी। जिसमें लगभग तीन लाख संत रहेंगे। बताया कि जब से गायों को तिरस्कृत किया गया तो आकाल-सूखा जैसी समस्यायें पैदा हो गई। पूर्व में किसान गायों व बैलों से खुशहाल था, क्योंकि उनकी रक्षा करता था। गाय के गोबर व मूत्र के प्रयोग से धरती उपजाऊ बनी रहती थी। इसके अलावा तमाम तरह की उत्पन्न होने वाली बीमारियांें से रोकथाम होती रही है। कहा कि अगर चार गायें पाल ली जाये तो अन्ना प्रथा देखने को नहीं मिलेगी।

चारागाहों पर अतिक्रमण कर जानवरों के चरने का स्थान खत्म किया जा रहा है। जिससे अन्ना जानवर खेतों की ओर रुख करते हैं। बताया कि गौ रक्षा जन सम्पर्क यात्रा 20 सितम्बर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने के बाद लखनऊ में सम्पन्न होगी। कहा कि गौ वंश की उपेक्षा के कारण ही आज पर्यावरण असंतुलित हुआ है। खेतों की उर्वरा शक्ति कम हुई है। इस मौके पर यात्रा में मौजूद गोपाल दास, कृपाशंकर, नत्थीलाल शर्मा, राधेश्याम, परशुराम, चंदन सिंह, राजबीर आदि मौजूद रहे।

About the Reporter

  • राजकुमार याज्ञिक

    चित्रकूट जनपद के ब्यूरो चीफ एवं भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार याज्ञिक चित्रकूट जनपद के एक वरिष्ठ पत्रकार हैं। पत्रकारिता में स्नातक श्री याज्ञिक मुख्यतः सामाजिक व राजनीतिक मुद्दों पर अपनी गहरी पकड़ रखते हैं।, .



चर्चित खबरें