मौदहा- कांग्रेस के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने प"/>

सैनिको व मासूमो की मौत पर राजनीति करने में नही हटते पीछे

मौदहा- कांग्रेस के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के पदाधिकारियों के आदेश पर नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्वास्थ्य व्यवस्थायें देख अस्पताल प्रशासन के कसीदे पढे़।बताते चले कि कुछ दिनों पहले गोरखपुर मेडिकल काॅलेज में कुछ दिनों पूर्व हुयी बच्चों की मौत के बाद से भिन्न भिन्न राजनैतिक दल प्रदेश सरकार को चिकित्सा सुविधाओं को लेकर घेरा था और इस मामले को लेकर राजनैतिक तलाश में जुट गये है।

वैसे भी देश अथवा प्रदेश की राजनीति लाशों पर ही खेली जाती है चाहे फिर वह किसानों की लाशें हो या मजदूरों की, सैनिकों की लाशें हो या मासूमों की जहां भी मौते होगी वही राजनीति होना तय है और उसे ही मुद्दा बनाया जाता है और कल तक जो राजनैतिक दल सत्ता में थे वह इन पर राजनीति चमकाने लगते है। जबतक सत्ता में रहते है तब सब कुछ सही और साफ सुधरा रहता है परन्तु जब विपक्ष में होते है वही सब उन्हे उल्टा दिखने लगता है और चारो तरफ भ्रष्टाचार दिखता है। इन्ही तमाम बातों के चलते मंगलवार को कांग्रेसी नेता मौदहा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचें जहा उन्हे सब कुछ ठीक ठाक पहुंचे।

जिन समस्याओं को लेकर बीते कई वर्षों से आम मरीज व तीमारदार पनी शिकायतें शासन प्रशासन से करते रहे हैं वही उनमें से एक भी समस्या कांग्रेसियों को नजर नहीं आयी। कांग्रेसियों ने बिजली पानी साफ सफाई दवा वितरण जनरेटर डक्टरों की उपस्थिति सहित तमाम व्यवस्थाओं पर जमकर कसीदे पढे़ है।

यह देख अस्पताल अधीक्षक डा0 अनिल सचान भी खासा गदगद दिखे। जबकि बेचारे गरीब तीमारदार मरीजो को लेकर आते हैं कि मुफ्त में इलाज हो जायेगा परन्तु डाक्टर बाहरी महंगी दवाये लिख उनके जेब में डाका डालते हैं। वही अस्पताल सुविधाओं व स्टाॅफ की कमी से जूझ रहा है। कांगे्रसियों में डा0 शाहिद अली, मुन्ना बार्डर, सफकत उल्ला राजू, ओमप्रकाश, इस्लामुद्दीन आदि मौजूद रहे।



चर्चित खबरें