लघु एवं सीमान्त किसानों के उन्नयन एवं सतत विकास के लि"/>

8996 किसानों को वितरण किये गये ऋण मोचन प्रमाण पत्र

लघु एवं सीमान्त किसानों के उन्नयन एवं सतत विकास के लिये प्रथम चरण में जनपद बांदा के 8996 किसानों का प्रदेश सरकार द्वारा ऋण मोचित किया गया है। ऋण मोचन पर 54 करोड़ 54 लाख रुपये की धनराशि व्यय हुई है।

मा0 कैबिनेट मंत्री सिंचाई एवं सिंचाई यांत्रिक उ0प्र0 धर्मपाल सिंह ने उपरोक्त विचार मण्डी समिति बांदा में संपन्न ऋण मोचन समारोह में जनपद के 51 सौ किसानों को ऋण मोचन प्रमाण पत्र वितरित करने से पूर्व व्यक्त किये। मा0 सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि बुन्देलखण्ड के किसानों के लिये इजरायली पद्धति की टपक सिंचाई योजना 90 प्रतिशत अनुदान पर लागू की जायेगी। इसके साथ ही ऐसी जमीन जिस पर खेती नहीं होती है उसे खेती योग्य बनाकर भूमिहीन लोगों में वितरित की जायेगी।

उन्होंने कहा कि अब तक हुजूर के बेटे ही हुजूर बनते थे किन्तु अब मजदूर के बेटे भी हुजूर बन सकेगें। इसके लिये प्रदेश के सभी पब्लिक स्कूलों में 20 प्रतिशत गरीब बच्चों के प्रवेश की व्यवस्था की गई है जिससे गरीब व्यक्ति के बच्चे भी अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सके। श्री सिंह ने कहा कि सरकार द्वारा गेहूॅ तथा आलू की खरीद की व्यवस्था की गई थी तथा अब धान खरीद की व्यवस्था की जा रही है।

सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि भारत माता की दो आँखे गाय और गाॅव है इसलिए हमें गाय और गाॅव की विरासत को बचायें रखने की जरुरत है। उन्होंने किसानों से अपील किया कि वे गायों को अन्ना न छोडें। उन्होंने कहा कि बांदा को ओ.डी.एफ. बनाने के लिये आप लोग सहयोग प्रदान करें। श्री सिंह ने कहा कि सरकार नदियों की अबिरल धारा बनाये रखने के लिये कार्य कर रही है। नदियों का चैन लाइजेसन किया जायेगा जिससे बाढ़ से बचाव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि वर्षा जल के संचयन पर विशेष ध्यान दिया जाय। श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार सबका साथ तथा सबका विकास के लिये कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि जब किसान खुशहाल होगा तब पूरा प्रदेश खुशहाल होगा इसलिए सरकार किसानों की तरक्की के लिये लगातार कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पहली ही कैबिनेट बैठक में ऋण मोचन का फैसला लिया था जिसका क्रियान्वयन प्रारम्भ हो चुका है। उन्होंने विभिन्न तहसीलों के 51 कृषकों को ऋण मोचन येाजना प्रमाण पत्र स्वयं वितरित किये।
सांसद बांदा भैरो प्रसाद मिश्रा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने विषम परिस्थितियों में भी किसानों के ऋण माफी वादे को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड क्षेत्र में लघु एवं सीमान्त किसानों की दो हैक्टेयर की सीमा को बढ़ाया जाय जिससे अधिक से अधिक किसानों को लाभ प्राप्त हो सके।

सदर विधायक प्रकाश द्विवेदी ने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा बिना किसी भेदभाव के सभी लघु एवं सीमान्त किसानों का ऋण मोचन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार अन्त्योदय के सिद्धान्त पर कार्य कर रही है। श्री द्विवेदी ने मंत्री जी से मांग की कि वे जिले में सिंचाई विभाग की येाजनाओं को उदारता से प्रदान करायेगें।

विधायक तिन्दवारी बृजेश कुमार प्रजापति ने कहा कि भा0ज0पा0 की एक लोकतांत्रिक पार्टी है तथा इस पार्टी में छोटे से छोटे व्यक्ति को भी आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लघु एवं सीमान्त किसानों को 36 हजार करोड़ रु0 का कर्ज माफ किया गया है।

जिलाधिकारी महेन्द्र बहादुर सिंह ने मा0 मंत्री जी का स्वागत करते हुए कहा कि बांदा में अन्नाप्रथा को समाप्त करने तथा बांदा को स्वच्छ बनाने के लिये जिला प्रशासन द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गायों को अन्ना छोड़ने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। कार्यक्रम का शुभारम्भ सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने दीप प्रज्जवलित कर किया।

इस अवसर पर आयुक्त चित्रकूटधाम मण्डल अजय कुमार शुक्ला, उपमहानिरीक्षक पुलिस ज्ञानेश्वर तिवारी, पुलिस अधीक्षक शालिनी , जिलाध्यक्ष भा.ज.पा. इन्द्रपाल पटेल, मुख्य विकास अधिकारी आर.के.सिंह, अपर जिलाधिकारी (वित्त/राजस्व) गंगाराम गुप्ता, जिला कृषि अधिकारी बाल गोबिन्द यादव तथा सम्बन्धित विभागों के अधिकारी, जनप्रतिनिधि व बड़ी संख्या में किसान उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन मुईनुद्दीन राही ने किया। कु0 अंजली वर्मा द्वारा सरस्वती वंदना व स्वागत गीत प्रस्तुत किया जाय।



चर्चित खबरें