website statistics
जिले की सडक़ों को देखकर यह प्रतीत होता है कि शायद मुख्"/>

शहर की मुख्य सडक़ें बड़े गड्ढों में हुईं तब्दील

जिले की सडक़ों को देखकर यह प्रतीत होता है कि शायद मुख्य सडक़ स्टेशन से लेकर मुख्य बाजार तक जाती है इस पर कोई अधिकारी नहीं चलते हैं। कभी अब तक इस सडक़ पर सडक़ कम गड्ढे अधिक नजर आने लगी है। यह बात आज हरित क्रान्ति संचालक पं.हरिनारायण शर्मा ने कही। उन्होंने बताया कि इस सडक़ मार्ग को लेकर धरना प्रदर्शन, ज्ञापन आदि देकर उत्तर प्रदेश शासन से जांच की मांग भी कर चुके हैं लेकिन ऐसा लगता है कि शायद उत्तर प्रदेश सरकार में बैठी मंत्रियों द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

तभी अभी तक उत्तर प्रदेश क्या ललितपुर जिला अभी तक गड्ढा मुक्त नहीं हुआ है जबकि 30 जून बैंक भरने की गड्ढों का आदेश उत्तर प्रदेश के मुखिया के द्वारा हो चुका था। उन्होंने किसी पार्टी का नाम लेते हुए आरोप लगाया कि नेता वोट लेने की समय लोक लुभावन वादे करते हैं और उसके बाद भूल जाते हैं। ललितपुर जनपद के लिए हुआ है आज ललितपुर जनपद विकास के लिए छटपटा रहा है नगर की सफाई व्यवस्था पूरी तरह चोपट है। इसी कारण से मच्छरों का आतंक भी जमकर बना हुआ है। पीने की पानी की व्यवस्था भी स्टेशन की तरफ इस मौसम में बहुत ही खराब है, तो गर्मियों में क्या हाल होगा भगवान जाने जिला अस्पताल में दवाइयों की भी भारी कमी का आरोप लगाया है।

उन्होंने कहा है गंभीर रोगों का इलाज ललितपुर की बड़ी अस्पताल में नहीं हैं। यहां के डॉक्टर सीधा झांसी रेपर कर देते हैं। इस से गरीबों को भारी परेशानी झेलते हुए उनका मरीज दम तोड़ देता है। उन्होंने प्रदेश सरकार व स्थानीय प्रशासन से सडक़ें गड्ढा मुक्त कराने एवं अन्य व्यवस्थायें सुद्रढ़ कराने की मांग उठायी है।



चर्चित खबरें