सागर को राष्ट्रीय पहचान दिलाने वाले बुंदेली मा"/>

विट्ठल भाई की पुण्यतिथि पर हुआ स्मृति आयोजन

सागर को राष्ट्रीय पहचान दिलाने वाले बुंदेली माटी के सपूत महान गांधीवादी, उत्कृष्ट कवि,समाजसेवी , राजनेता,पूर्व मंत्री स्मृति शेष विट्ठलभाई पटेल की चतुर्थ पुण्यतिथि पर स्मृति सभा का आयोजन सिविल लाइन स्थित आशीर्वाद के सभा भवन में ओरेकल इवेंट मैनेजमेंट ग्रुप और श्यामलम् संस्था द्वारा किया गया। शुरुआत प्रसिद्ध गायक शिवरतन यादव द्वारा स्वर्गीय विट्ठल भाई पटेल द्वारा रचित भजन 'कौन-कौन गुन गाऊं राम के' गायन से की गई। संचालन स्वर संगम संस्था के अध्यक्ष हरिसिंह ठाकुर ने किया।
 
प्रथम वक्ता के रूप में बोलते हुए डॉ. महेश तिवारी ने विट्ठल भाई के जीवन की सहयात्रा के संस्मरण और उनकी बहुमुखी प्रतिभा और व्यक्तित्व पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि राजनीति में वह शुचिता के पर्याय थे। इस अवसर पर डॉ. सुरेश आचार्य ने अपने उद्बोधन में कहा कि विट्ठल भाई के व्यक्तित्व का व्यापक फलक था। वे राजनीति ,समाज सेवा ,साहित्य के जगत में महत्वपूर्ण हस्ताक्षर थे।आम आदमी की पीड़ा की समझ उनके स्वभाव में थी।
 
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी संघ के अध्यक्ष तथा विट्ठल भाई के निकटस्थ रहे शिवशंकर केसरी ने उनकी स्मृतियों को साझा किया। वरिष्ठ कवि निर्मल चंद निर्मल,डॉ.श्याम मनोहर सिरोठिया,डॉ.नलिन जैन एवं पुष्पदंत हितकर ने उन्हें काव्यमयी श्रद्धांजलि दी।श्यामलम् अध्यक्ष उमाकांत मिश्र ने जहां उनके कवि हृदय होने का उल्लेख किया वहीं उनकी स्मृति में एक ग्रंथ का प्रकाशन श्यामलम् की ओर से डा.सुरेश आचार्य और डॉ.महेश तिवारी के संपादकत्व में किए जाने की घोषणा भी की।
 
पेंशनर समाज के अध्यक्ष जे.पी.पांडेय,भरत तिवारी,डॉ. शैलेष आचार्य ने भी विट्ठल भाई से जुड़े संस्मरण सुनाते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। सभा की समाप्ति डॉ.अंकलेश्वर दुबे अन्नी ने विट्ठलभाई द्वारा विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों में समापन अवसर पर गाए जाने वाले भजन रघुपति राघव राजाराम के सामूहिक गायन से संपन्न कराई ।इस अवसर पर स्व. विट्ठल भाई पटेल के परिजन सुनीलभाई ,राजू भाई संजय भाई,वरदान भाई ,हीरकभाई पटेल, हेमचंद जैन, हंसराज नामदेव,कोमल यादव,सुरेंद्र सुहाने, आशीष ज्योतिषी ,ज्ञान बुंदेला ,डॉ.आशीष द्विवेदी, डॉ.विनोद तिवारी,अशोक दुबे,हरिओम केसरवानी,मणिकांत चौबे, शरद जैन गुड्डू, हरि शुक्ला, कुंदन पाराशर , कपिल बैसाखिया,डॉ.ऋषभ भारद्वाज,प्रमोद लारिया, कल्याण सिंह, इकबाल भाई,राजकुमार श्रीवास्तव, वीरेंद्र राजे, हर्षवर्धन दुबे एडवोकेट,संतोष,मुन्ना ठाकुर आदि उपस्थित थे। 


चर्चित खबरें